Metro Educate क्या है और कैसे चलता है

[ad_1]

सभी को पता है की ये Metro Educate क्या है या मेट्रो रेल क्या है, पर क्या आपको ये पता है की ये आकिर काम कैसे करता है. यदि नहीं तो आप ये article जरुर पढ़िए. जैसे की हम जानते हैं हमारा देश तरक्की की राह पर आगे बढ़ रहा है इसकी जनसंख्या और ज्यादा बढ़ रही है.

तो एक growing country होने के कारण इसकी प्रगति में कई मुश्किलें आ रही है, ऐसे में Transportation या यातायात की भी दिक्कतें उभर कर सामने आ रही है. इन्ही सभी समस्याएं का हल धुंडने में हमारे वैज्ञानिक दिन रात परिश्रम कर रहे हैं.

बढती जनसँख्या को यातायात की सुबिधा प्रदान करने में मेट्रो रेल का एक बहुत बड़ा योगदान रहा है, इसकी मदद से एक साथ बहुत से लोग एक जगह से दुसरे जगह बड़ी आसानी से जा पा रहे हैं. चूँकि ये अधिकतर जगह underground tunnels में में यातायात करता है इसलिए इससे Site visitors की भी समस्या न के बराबर है.

देखा जाये तो हमारे देश में मेट्रो रेल करीब 25 सालों से है लेकिन इसकी बढती जरुरत ने इसे एक बहुत ही उपयोगी माध्यम बना दिया है यातायात के लिए. तो आज हम ये जानेंगे की ये Metro Educate क्या है या मेट्रो रेल क्या है और ये काम कैसे करता है. तो फिर देरी किस बात की चलिए शुरू करते हैं.

Metro Educate क्या है (What’s Metro Educate in Hindi)

metro train kya hai

Metro Educate या मेट्रो रेल एक ऐसी transportation gadget है जिसकी मदद से बहुत से लोग एक समय में एक जगह से दूसरी जगह बड़ी आसानी से यातायात कर सकते हैं. Metro Educate को MRTS भी कहा जाता है.

MRTS का complete shape होता है Mass Fast Delivery Machine. ये बहुत ही handy, rapid, environment friendly और dependable माध्यम है. इसमें ज्यादा उर्जा भी खर्चा नहीं होती क्यूंकि एक analysis से पता चला है की इसमें प्रति व्यक्ति के पीछे five भागों से 1 भाग तक की उर्जा खर्च होती है यदि हम किसी conventional trains की बात करें तो.

चूँकि ये Electrical energy से चलती है इसलिए ये बहुत Eco Pleasant भी है और ये प्रदुषण नहीं फैलाता है. इसमें यात्रियों के लिए बहुत सारी व्यवस्था की गयी है जिससे की उनकी यात्रा बहुत ही आरामदायक हो.

इसमें यात्रा शुल्क भी बहुत ही कम है यदि हम किसी दुसरे माध्यम की बात करें तब. ये एक ऐसी Public Delivery है जो की बहुत ही कम समय में यात्रियों को अपने गंतव्य स्थल में पहुंचा देता है जिससे उनकी इस Public Delivery के प्रति आस्था बढ़ गयी है.

Metro Educate भारत में इनती देरी में क्यूँ आई

इतनी बेहतरीन यातायात की सुविधा होने के वाबजूद आप सोच रहे होंगे की इसे हमारे देश में इतनी देर में क्यूँ लाया गया. तो में आपको बता दूँ की मेट्रो रेल हमारे देश में करीब 25 वर्षों से Kolkata में है. लेकिन ऐसे बड़े प्रोजेक्ट को इतने बड़े पैमाने में सुचारू रूप से स्थापित करना और चलाना अपने आप में ही एक बहुत बड़ा काम है.

यदि हम कारणों की बात करें तो पहले हमारे देश के पास इतनी Price range नहीं थी जिससे की इतने बड़े पैमाने में Make investments कर सकें, उसके साथ साथ इसे ख़त्म होने में बहुत समय भी लगता और इसमें जो advanced era इस्तमाल हो रही है उसके लिए हमें काफी analysis करना पड़ता.

इसके साथ साथ हमारे देश में mass transportation को impliment करने के लिए इतनी सुविधा पहले मेह्जुद नहीं थी जितनी की आज है. आंकड़ों का कहना है की हमारे देश में Public Delivery लगभग 70% होनी चाहिए लेकिन अब तक ये केवल 30 से 40% ही हो पाया है.

लेकिन ये अंदाजा लगाया जा रहा है कई आने वाले समय में इस कमी को पूरी कर दी जायेगी, जिसके लिए हमें और बेहतर era की जरुरत है. आने वाले समय में हमारे और ज्यादा शहरों जैसे Pune, Chandigarh, Ahmadabad, Kanpur, Ludhiana, Indore, Bhopal और Faridabad में मेट्रो रेल की स्थापना की जाएँगी.

Metro Educate कैसे चलता है

मुझे पता है की आपके मन में ये बात जरुर आ रही होगी की आकिर ये मेट्रो रेल काम कैसे करता है इसके पीछे की Era आकिर है क्या. तो चिंता करने की कोई जरुरत नहीं क्यूंकि आज में आप लोगों इस बारे में जरुर बताऊंगा. जैसे की हम ये जानते हैं की मेट्रो रेल मुख्यत electrical energy से चलता है.

में आपको बता दूँ की ये in reality DC Shunt Motor के idea में चलता है. इसमें कोई tools का इस्तमाल नहीं होता है. सबसे पहले Fashionable Metro teach Delhi में ही शुरू की गयी सन 2002 में.

मेट्रो में मुख्यत दो चीज़ें होती है एक Microcontroller receiver के साथ और Voice Recorder Chip Speaker के साथ. ये पूरी Machine को उस Educate के साथ connect किया गया होता है. जब gadget को Energy दी जाती है तब Educate आगे बढ़ता है, और ये तब तक चलता रहेगा जब तक कोई RF Card को monitor के निचे रखा नहीं जाता. Railway Stations में Encoded RF Transmitter को रखा जाता है.

Educate में जो Microcontroller होता है उसे कुछ इस प्रकार से Program किया गया होता है कि सभी Station जहाँ जहाँ भी teach रुकेगी उनका नाम पहले से ही उस chip में retailer किया हुआ होता है और जिसको की एक distinctive code दिया हुआ होता है.

और जब भी teach उस station में पहुँचता है तब teach के receiver को वह code मिल जाता है, जिसे की वह Transmitter भेजता है और उसे वह Microcontroller obtain करता है. इसके बाद वो अपने Glance Up Desk में उस code को धुन्दता है और अगर वो code मिल जाता है तब वो controller वह explicit आवाज को बजने को निर्देश देता है.

जिससे वह announcement 6 seconds के लिए होता है, जिसमे उस Station Quantity और जगह का नाम होता है. इसी समय teach करीब 10 2nd के लिए खड़ी होति है. उतनी समय रहने के बाद दूसरी announcement teach छोड़ने की होती है और teach आगे बढती है.

आजकल तो teach के अन्दर LCD Module को set up कर दिया गया है यात्रियों के सुविधा के लिए. इन Display में आने वाले Station के नाम पहले से ही प्रदर्शित किया जाते हैं.

अभी के Metro बहुत ही मॉडर्न है इसमें newest era जैसे Centralized Automated Educate Regulate (CATC), Automated Educate Operation (ATO), Automated Educate Coverage (ATP) और Automated Educate Signalling (ATS) Machine की सुविधा set up की गयी है.

Announcement और Station के नाम के साथ साथ अभी Course Maps को LCD Display में दिखाया जा रहा है.

Tickets के लिए अभी Contacless, Saved Price SmartCards का इस्तमाल किया जा रहा है. इन Metros के अपने ही Police Coverage Pressure होती है, और safety के लिए जगह जगह में CCTV Digital camera लगाये गए हैं.

Benefits and Disadvantages of Metro Trains

जैसे की हम जानते हैं की सभी चीज़ों के Benefits और disadvantages होती है वैसे ही Metro Trains की भी हैं. अगर हम पहले उनके Benefits की बात करें तो हम कह सकते हैं की

  • Value Efficient : ये बहुत ही सस्ते किस्म के बेहतरीन Public Delivery हैं जिसमे की यात्री बड़ी आसानी से यात्रा कर सकते हैं.
  • Low Repairs : अगर हम दुसरे delivery की बात करें तो इसमें Repairs के खर्चे काफी कम हैं.
  • Low Infrastructure Value : अगर हम Freeway Tracks की तुलना करें तो इसके Infrastructure की कीमत बहुत ही कम है.
  • इससे ट्रैफिक की समस्या नहीं होती जिससे लोग बड़ी जल्दी अपने लक्ष्य स्थल में पहुँच जाते हैं.
  • इससे प्रदुषण नहीं होता क्यूंकि ये Electrical से चलता है.
  • इसको बनाने के लिए ज्यादा जगह की जरुरत नहीं है.

अगर हम इसके Disadvantages के बारे में बात करें तो

  • इसके लिए Mounted Routes allocate करनी पड़ती है, हम किसी भी teach को किसी भी course में नहीं भेज सकते.
  • कुछ जगह में Underground Tunneling की लागत बहुत ज्यादा भी हो जाती है.
  • शहर के सभी जगहों को इसके द्वारा नहीं जोड़ा जा सकता अगर शहर को पहले से पूरी making plans से नहीं बनाया गया हो तो.

Notice दुनिया की सबसे लम्बे Metro Rail Monitor Shanghai metro (China) में है जिसके पूरी दुरी है 548 km.

Metro Educate का भविष्य

देश की तरक्की में यातायात सुविधा का बहुत बड़ा हाथ है. इस स्तिथि में Metro Rail की सुविधा एक बहुत बड़ा अंग निभा सकती है. जिस तरह से हमारे देश के शहरों की आबादी दिन ब दिन बढ़ रही है उस हिसाब से इनकी जरूरतों भी बहुत जल्दी बढ़ रही है. ऐसे में अच्छे Tasks ही देश की तरक्की में अपना योगदान दे सकते हैं.

भारत एक growing देश है ऐसे में अगर अच्छे Metro Tasks को प्रेरित किया गया हमारी सरकार की तरफ से तो चंद वर्षों में इसके नतीजे देखने को मिलेंगे.

अगर सही Site visitors Hall, Era, भूमि की उपलब्धता, अच्छे Funding मिल जाये तो Metro Rail की Machine को एक नयी ऊँचाई में ले जाया जा सकता है. बस सही Imaginative and prescient और Making plans की जरुरत है. और आगे चलकर हमारा देश में पूरी दुनिया में अपने Metro सुविधा के लिए जाना जायेगा.

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को Metro Educate क्या है और Metro Educate कैसे चलता है के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को मेट्रो रेल के बारे में समझ आ गया होगा.

मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Percentage करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने readers या पाठकों का हर तरफ से हेल्प करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं.

मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा. आपको यह लेख मेट्रो रेल क्या है और ये काम कैसे करता है कैसा लगा हमें remark लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले.

“ मेरा देश बदल रहा है आगे बढ़ रहा है ”

आइये आप भी इस मुहीम में हमारा साथ दें और देश को बदलने में अपना योगदान दें.

Remaining Up to date on November 8, 2020

Leave a Comment