LiFi क्या है और कैसे काम करता है

0
17


LiFi जिसका पूरा नाम है Mild Constancy. यह एक हाई स्पीड ऑप्टिकल वायरलेस तकनीक है. इस LiFi तकनीक में Visual Mild (LED बल्ब से निकलने वाली रोशनी) का इस्तमाल डिजिटल सूचना प्रसारण में किया जाता है.

Lifi Kya Hai Hindi

जैसे की आपको पता होगा यह Era WiFi से मिलती जुलती है वैसे तो दोनों WiFi और LiFi में काफी अंतर है. दोनों सामान इसीलिए हैं क्यूंकि दोनों Wi-fi तरीके से Data को Proportion करते हैं.

WiFi Radio Waves से knowledge Transmission करता है, तो दूसरी तरफ LiFi Visual Mild Conversation का इस्तमाल करता है. Mild bulb (LED) में जो रोशनी होती है उस रोशनी से यह era कार्य करती है.

LiFi Visual Mild Conversation यह एक Optical Conversation Era है. जिनमे Visual Mild Rays का use होता है. इन Rays की vary है 400-800 Thz.

इस Era में Mild के माध्यम से knowledge Switch होने के कारण इसकी velocity करीबन 224 GBps है. जो wifi से करीबन 1000 गुणा ज्यादा है. मतलब यह era हर जगह उपलब्ध नहीं है वरना आप कुछ Seconds के अंदर, एक LED बल्ब के निचे खड़े हो कर Films, Movies Obtain कर सकते हैं.

इसका फायदा यह भी है Web की सेवा आपको मिलेने साथ, आपके कमरे में कभी भी अंधेरा होगा ही नहीं क्यूंकि जब आप LiFi बल्ब को on करोगे तब रोशनी भी निकलेगी और web भी.

LiFi काम कैसे करता है

जैसे सारे Web Gadgets काम करते हैं वैसे ही LiFi भी काम करता है. कैसे काम करता है यह जानने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए इसमें कोन कोन से Elements का इस्तमाल किया जा रहा है. मुख्य रूप से ये Three part होते हैं.

1. Lamp Motive force
2. LED Lamp
3. Picture Dectector

इन तीनो Elements के साथ साथ आपको एक और Connection चाहिए जिसको हम और आप कहते हैं Web. पहले से ही मैं आपको एक जानकारी दे चूका हूँ यह Lighting के जरिए knowledge Transmission करता है.

LED बल्ब के कुछ Traits हैं. LED बल्ब में Mild Emitting Diode और Fluorescent Part के कारण LiFi के लिए यह सही Part है.

LiFi के लिए Top-Velocity knowledge price की आवस्यकता है और LED बल्ब में DATA Mild की Velocity से Transmit होते हैं. इन LED Bulb में Mild Depth काफी तेजी से बदलता रहता है. Mild कभी On होता है तो कभी Off.

Human Eyes इन LIght On और Off को कभी देख ही नहीं सकते. किंतु Picture Detector को यह सब दिखाई देता है. इन सभी वजहों के कारण LED बल्ब सबसे सही है. LiFi की कार्य प्रणाली को समझने के लिए आपको LED को समझना जरुरी था.

कार्य प्रणाली

Web Supply Lamp Motive force से जुड़ा रहता है और Lamp driving force, web cables से आने वाली Data Led Bulb के अंदर Transmit करता है. फिर LED बल्ब में जो Ligth आती है. वह निचे Picture Dectector से टकराते ही, Picture detector Mild में होने वाल्रे बदलाव को आसानी से पहचान जाता है.

अब Picture detector Mild Indicators को Binary knowledge Convert कर देता है. और Pc या फिर Smartphone पे Procedure होने के लिए भेज देता है. बाद में वह Audio, Video, Pictures में Convert हो जाता है. इसके बाद Utility में हम डाटा को देख सकते हैं.

जैसे Lamp Motive force से होते हुए Led Lamp और इसके बाद Picture Detector से knowledge Cellular के पास आता है. वैसे ही इसके वीपरीत Cellular से डाटा वापस LED Lamp से होते हुए knowledge वापस Receiver के पास जा सकता है. यह Bidirectional Device पे भी काम करता है. Sender से Receiver और Receiver से Sender.

LiFi vs WiFi in Hindi

Function LiFi WiFi
Complete shape Mild Constancy Wi-fi Constancy
Operation LiFi में Information Transmission का माध्यम Mild है WiFi में Information Transmission का माध्यम Radio Waves है
Gadgets LED bulb Wi-fi Router है
Interference इसमें कोई भी Interference Drawback नहीं है Routers के साथ Interference Drawback है
Era Provide IrDA compliant units WLAN 802.11a/b/g/n/ac/advert usual compliant units
Programs airways undersea explorations hospitals के operation theaters में place of job और house में Web Surfing के लिए इस्तमाल किया जाता है WiFi Hotspot के जरिए Web Get admission to किया जाता है
Benefits Interference कम है salty sea water में काम करता है घंच Space में भी काम करता है Interference ज्यादा है salty sea water में काम नहीं करता है घंच Space में भी काम कम करता है
Privateness Mild दिवार के दूसरी तरफ ना जाने के कारण Transmission Protected रहता है इसमें Community Open रहने के कारण Information Transmission Protected नहीं रहता है
Information switch velocity 1 Gbps 150 Mbps+
Frequency of operation Radio Waves के Frequency से 10 गुणा अधिक इसमें 2.4GHz 4.9GHz और 5GHz
Protection distance 10 meters 32 meters (WLAN 802.11b/11g) Transmission Energy और Antenna पे निर्भर है
Elements Lamp driving force LED Picture Detector LED bulb Wi-fi Router

Historical past of LiFi in Hindi

Prof. Harald Haas, वो UK के College of Edinburgh के थे. जिनको LiFi Era का Founder भी बताया जाता है. अपने Invention को वो Tech Communicate में Constitute किये थे. Harald Haas Natural LiFi के Co-Founder हैं. जिनकी सोच से ही आज हम LiFi Era को भविष्यत में इस्तमाल कर सकते हैं.

Harald Haas के मुताबिक अगर किसी भी Data को Visual Mild Portion के माध्यम से भेजा जाए. तो उसे Visual mild communique (VLC) कहा जाता है. Harald Haas ने एक D-Mild Challenge को सुरु किया.

2010 से 2012 तक इस प्रोजेेेक्ट को  काफी समय दिये थे जब वो Edinburgh’s Institute में थे. काफी समय से इस venture के  उपर बिताने के बाद.

2011 में TED International Communicate दौरान LiFi Era को लोगों के सामने प्रदर्सन किए थेे. इसके बाद लोग इस Era के बारे में लोग जानने लगे थे. उसी समय बिना समय गवाए एक Corporate की सुरुवात की गई थी जिसका नाम था PureLiFI जो अभी है.

PureLiFi का पहले एक  नाम था Natural VLC जो की एक unique apparatus producer (OEM) Corporate थी. Purelifi के व्यवसाय को बढ़ाने के लिए यह Corporate मोजुदा LED Lights पे काम करने लगी.

October 2011 में इस Corporate ने और Industries के  Teams मिलके LiFi Consortium का गठन किया था. दोनों का एक ही मकसद था Top Velocity Wi-fi Device का गठन करना है .

Radio Waves में जो Limitation है उनको ख़तम करना. एसी बहुत सारी Firms थी जो Uni-Directional VLC Product बनाने लगी थी लेकिन वह Li-Fi से काफी भिन थी.

2012 में VLC Era को LiFi के साथ प्रदर्सन किया गया था. August 2013 के एक प्रदर्सन में यह प्रमाणित हो चूका था. इसमें Unmarried Colour LED 1.6 Gbit/sec के साथ Information Transmission हो रहा था.

2013 September के एक Press में यह बोला गया की LiFi में Line Of Sight की कोई आवस्यकता नहीं है. October 2013 के एक Record में यह बतया गया था की Chinese language Producers ने LiFi package को Construction में लगे हुए हैं.

April 2014 में Russian corporate Stins Coman ने एक wi-fi Community को Broaden किया जिसका नाम था BeamCaster. फ़िलहाल इस में knowledge velocity करीबन 1.25 gigabytes in line with 2nd है.

आगे भविष्यत में LiFi की Velocity five GB/sec होने वाली है. यही छोटा सा LiFi का इतिहास था. सायद पसंद आया हो आपको. चलिए अब बात करते हैं इसके फायदे और
नुकसान के बारे में.

फायदे और नुकसान (Benefits and Disadvantages of LiFi)

हर किसी के फायदे और नुकसान होते हैं वैसे ही इसके भी है. इसे आप यह पता लगा सकते हैं की क्या कुछ खास है या नहीं. चलिए सुरु करते हैं.

फायदे (Benefits)

  1. Potency:   आपको पता ही होगा यह Era Visual Mild Era पे आधारित है. जैसे की आपको पता है Administrative center और घर में पहले से ही LED बल्ब हैं. LED बल्ब Mild के अच्छे Supply होते हैं. इसी वजह से इनको knowledge Transmission के लिए इस्तमाल किया जा सकता है. यह काफी सस्ता और अच्छा Power का Supply है.Information Transmission के दौरान LED बल्ब को On करना अनिवार्य है. अगर आपको Mild से परेशानी हो रही है तो आप चाहो तो LED बल्ब की रोशनी को कम कर सकते हैं और फिर भी आप Web को इस्तमाल कर सकते हैं.
  2. Availability :   जहाँ Mild Supply है वहां Web है. आपको हर जगह Mild Bulb देख  सकते हैं, जैसे की properties, workplaces, retail outlets, shops और planes में भी हैं. आपको बोलने का एक ही  तत्वार्य है. जहां रोशनी की व्यवस्ता है वहां आप LiFi का Use कर सकते है.
  3. Safety:  इस Era का एक Merit है Safety. जैसे की आपको पता है Mild दीवार के दुसरे पार नहीं जा सकता है. वैसे ही LiFi का Signalभी एक Room से दुसरे room तक Sign ना जाने के कारण LiFi Protected है. बहार का कोई भी Person आपके Web को Get admission to नहीं कर सकता है.

नुकसान (Disadvantages)

  1. बिना Mild Supply के आप Web Get admission to नहीं कर सकते हैं. हर बार आपको Mild को On करने की आवस्यकता है.
  2. एक Room के अंदर ही इसे इस्तमाल कर सकते हैं. Vary Restricted है.
  3. यह एक रौशनी होने के कारण दिवार को भेद नहीं सकती है. इसी वजह से Web Restricted Location पर उपलब्ध है.
  4. Daylight की वजह से Web Velocity में बाधा होने की संभावना है.
  5. नए LiFi Connection के लिए अलग से Community बनाना पड़ता है.
  6. यह काफी महँगी era है.

मेरी अंतिम राय इस लेख पे

हमेसा से मेरी यहि कोसिस रहती है की आपको सही और सठिक और पूर्ण Data आपको मिले. आज आप क्या सीखें LiFi क्या है और कैसे काम करता है. वैसे तो अबतक यह web सेवा नही आया  है. आगे बहुत ज़्यादा Long term है सायद आप Highway में जो boulevard mild होती है वहाँ आपको INTERNET use कर सकते हैं.

आपसे यही उमीद है ये लेख आपको पसंद आया होगा, कैसा लगा आप जरुर निचे बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Remark Field में जरुर लिखे. कोई सुझाव या सलाह देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जो हमारे लिए काफी उपयोगी हो.

हमारे Weblog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें आपको हनारी जानकरी आपको सबसे पहले मिले. मस्त रहें और खुस रहें. चलो बनायें Virtual India जय हिंद, जय भारत, धन्यबाद.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here