Internet Beacon क्या है – What’s Internet Beacon in Hindi

[ad_1]

Internet beacon एक छोटी symbol report होती है जो की अक्सर एक clear 1×1 pixel symbol होती है. वहीँ इसका इस्तमाल monitoring करने के कार्यों में किया जाता है. इसे जानबूझकर position किया जाता है एक webpage या HTML e mail में जिससे की ये report कर सकें जब content material load हो रहा हो.

Internet Beacons कैसे काम करते है?

प्रत्येक symbol को जिन्हें की reference किया गया होता है एक webpage के भीतर उन्हें retrieve या निकाला जाता है एक server से. जब symbol load हो जाती है, तब server report करता है एक “hit,” जिसे की most often save किया जाता है server log में. एक log report का इस्तमाल किया जा सकता है server में ये जानने के लिए की उस particular symbol को किसने get right of entry to किया और कौन सी IP cope with से उस report को get right of entry to किया गया है.

ऐसे में Internet beacon के filename में एक query mark (?) जरुर से शामिल होना चाहिए वहीँ उसके तुरंत बाद एक figuring out string, जैसे की : beacon.png?person2134.

Internet Browser सभी चीज़ों को forget about कर देता है जो की “.png” extension के बाद मेह्जुद होती है, लेकिन पूरी string को report किया जाता है एक hit के रूप में internet server के द्वारा. इस data को इस्तमाल किया जाता है ये जानने के लिए की कब किसी particular internet beacon को get right of entry to किया गया है.

वैसे तो कोई भी symbol को इस्तमाल किया जा सकता है एक internet beacon के तोर में, लेकिन छोटे clear GIFs या PNGs को ज्यादातर इस्तमाल किया जाता है क्यूंकि उन्हें आसानी से किसी भी web page में छुपाया जा सकता है. वहीँ उन्हें आसानी से observe किया जा सकता है third-party monitoring gear के इस्तमाल से जो की Major Internet Server से get right of entry to न हो रहे हों.

उदाहरण के लिए, analytics code जैसे की Google Analytics और associate hyperlinks जो की दुसरे corporations के द्वारा प्रदान किये जा रहे हों. एक associate hyperlink, उदहारण के लिए, इसमें एक internet beacon को position किया जा सकता है Hyperlink के पहले या बाद में. ये beacon writer को ये जानकारी प्रदान करता है की कितने collection of impressions (या कितनी बार उस Hyperlink को show किया गया है), जो की एक simple textual content hyperlink से पता कर पाना नामुमकिन है.

Internet Beacons का इस्तमाल Electronic mail Advertising and marketing में

Internet beacons को ज्यादातर e mail advertising and marketing में इस्तमाल किया जाता है ये observe करने के लिए की कितने customers ने Electronic mail को खोला और देखा.

जब आप एक promotional e mail देखते हैं, तब उस Electronic mail में छुपायी गयी internet beacon ये report कर लेती है की आपने उस Electronic mail को खोला है. ये e mail entrepreneurs को मदद करती है ये जानने के लिए किस प्रकार के campaigns ज्यादा efficient हो रहे हैं.

वहीँ इन e mail beacons का इस्तमाल unsolicited mail goal के लिए भी किया जा सकता है, चूँकि ये report कर लेते हैं legitimate e mail addresses. यही कारण है की ज्यादातर e mail purchasers और webmail interfaces routinely pictures को load नहीं करते हैं जो की emails में होती है, वहीँ जो की unsolicited mail के तरह प्रतीत होते हैं.

Closing Up to date on October 20, 2020

« Again to Wiki Index

Leave a Comment