Cellular Battery Guidelines in Hindi for Lengthy Battery Lifestyles

0
28


आज हम कुछ Cellular battery pointers in Hindi (हिन्दी)में जानेंगे, जिनके मदद से आप अपनी बैटरी का अछे से खयाल रख पाएंगे जो आपको lengthy battery existence देगा. Cellular इस श्रृष्टि का सबसे अनोखा आविष्कार है, इसके मदद से हम अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से आसानी से संपर्क कर सकते हैं.

इसका इस्तेमाल छोटे बच्चों से लेकर बड़े बूढ़े लोगों तक आज पूरी दुनिया में सभी कर रहे हैं. लेकिन सभी कोई इसका खयाल अच्छे से नहीं रखते इसलिए उनके cellular फ़ोन वक़्त से पहले ही ख़राब हो जाते हैं. Cell phone का सही इस्तेमाल ना करने से उसका गहरा प्रभाव सबसे पहले बैटरी पर ही पड़ता है, इसलिए अपने cellular फ़ोन का सही तरीके से इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है.
mobile battery tips in hindi
Cell phones हमारे ज़िन्दगी का एक एहम हिस्सा बन गया है, इसके बिना तो हमारे दिन की शुरुआत भी नहीं होती. हमारे non-public काम से लेकर skilled काम तक सभी में cellular हमारा साथ देता है.

इसका हम दिन भर में इतना इस्तेमाल करते हैं जिसके वजह से cellular की बैटरी का existence धीरे धीरे कम होने लगता है इसी कारण से हमें बहुत से दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. लेकिन हम अगर थोडा सा ध्यान और खयाल अपनी बैटरी का रखें तो उसका existence span बढ़ने का सम्भावना जयादा हो जाता है.

cellular फ़ोन की लोकप्रियता इतनी बढ़ गयी की आज हजारों कंपनी हर दिन नए नए smartphone release कर रहे हैं. सभी smartphone में कुछ ना कुछ नए और अलग options होते हैं.

आज कल तो कुछ smartphone की बैटरी भी seal हो कर आने लगी है, इसका मतलब अगर आपके बैटरी में कुछ परेशानी आये तो आप उसे बदल नहीं सकते और आपको उसे ठीक करवाने के लिए उस कंपनी के carrier heart में ही लेकर जाना होगा.

Smartphone में सबसे जल्दी ख़राब होने वाली चीज बैटरी ही होती है इसलिए आपको उसकी existence को बढ़ाने के लिए अपने smartphone का सही तरीके से इस्तेमाल करना होगा.

Cellular Battery Guidelines in Hindi – कैसे करे सही इस्तिमाल

आज हम इस लेख से यहीं जानेगे की अपने cellular की Battery का खयाल कैसे रखें जिससे आपको बार बार बैटरी बदलने की जरुरत ना पड़े और carrier heart कम जाना पड़े.

1. Charging करने की dependancy ठीक होनी चाहिए

Charging dependancy ठीक होनी चाहिए से मेरा मतलब है की आप अपने फ़ोन को कभी भी 0 % तक discharge होने के बाद ही चार्ज में ना लगायें. अगर आपके पास चार्ज करने का टाइम नहीं है और आपका फ़ोन पूरी तरह से discharge हो जाता है तो उसे चार्ज में लगा कर 100 % तक चार्ज होने के लिए ना छोडें, ऐसा करने से आपके फ़ोन का बैटरी जल्दी ख़राब होने लगती है.

ऐसा आप महीने में एक बार करेंगे तो आपके बैटरी पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा लेकिन अगर यही गलती आप हर दिन करेंगे तो आपकी बैटरी ज्यादा देर तक आपका साथ नहीं दे पायेगी.

आपको जब कभी भी समय मिले आप तभी अपने फ़ोन को चार्ज में लगा दीजिये फिर चाहे आपका बैटरी 10-15 के लिए चार्ज क्यूँ ना हो. बहुत लोग ऐसा सोचते हैं की अपने cellular को बार बार चार्ज करने से उसकी बैटरी ख़राब हो जाती है पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है.

2. दुसरे चार्जर का इस्तेमाल कर सकते हैं

दूसरी बात जो है आपकी बैटरी की existence को बचने के लिए तो वो है की आप चार्जर कौनसा use करते हैं. अगर आपका चार्जर gradual है और आपके cellular को चार्ज होने में काफी समय लगता है तो आप दुसरे चार्जर का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसमें आपको कोई दिक्कत नहीं आएगी.

बस आपको एक चीज़ का ध्यान रखना होगा की आप जो दुसरे चार्जर का इस्तेमाल करेंगे उसका output voltage आपके फ़ोन के चार्जर के output voltage के साथ सामान होना चाहिए. क्यूंकि आपका फ़ोन का circuit उतना ही voltage ले पायेगा जितना उसके चार्जर में दिया होता है, अगर दुसरे चार्जर का voltage ज्यादा होगा तो आपके फ़ोन की बैटरी में brief circuit हो सकती है.

3. महीने में एक बार अपने फ़ोन को पूरा discharge करें

जो तीसरी सबसे जरुरी चीज है वो ये है की आप महीने में अपने फ़ोन को एक बार पूरी तरह से discharge कर दें और फिर जा कर उसे complete चार्ज करके इस्तेमाल करें. ऐसा करने से बैटरी की existence बढ़ जाती है.

जैसा मान लीजिये कोई व्यक्ति हर महीने में एक बार अपना blood donate करता है, blood donate करने से आपके blood की जो गन्दगी होती है वो साफ़ हो जाती है जिससे आप हमेसा have compatibility रह सकते हैं ठीक उसी तरह बैटरी के जो mobile के पॉवर हैं वो हर दिन बार बार चार्ज और discharge होने से उसके mobile का पॉवर कम हो जाता है तो अगर आप महीने में एक बार discharge करके complete चार्ज करते हैं तो बैटरी के mobile का पॉवर regain हो जाता है.

इससे आपका बैटरी जल्दी ख़राब नहीं होता और ज्यादे समय तक टिकता है.

बहुत से लोग ऐसा सोचते हैं की अगर आप अपने फ़ोन को रात भर चार्ज में छोड़ देंगे तो आपकी बैटरी जल्दी ख़राब हो जाएगी पर असल में ऐसा बिलकुल भी नहीं है. आज कल marketplace में जो बैटरी आ रही है उसमे एक overcharging का mobile लगा हुआ होता है जो आपके फ़ोन में 100 % चार्ज हो जाने के बाद आपका बैटरी और चार्ज settle for नहीं करता.

तो इसकी चिंता आपको करने के बिलकुल भी जरुरत नहीं की आपका फ़ोन over fee हो जायेगा. आज कल सभी android फ़ोन और apple फ़ोन के बैटरी में पहले से ही overcharging coverage के साथ ही आ रहा है.

तो ये थी Cellular battery pointers in Hindi (हिन्दी) जिसको आप अपनाएंगे तो आपके बैटरी की प्रॉब्लम कम हो सकती है और आपको उसे बदलने की जरुरत नहीं पड़ेगी. ख़ास कर की उनलोगों को इस चीज का ज्यादा ध्यान रखना होगा जिनके फ़ोन में बैटरी seal हो कर रहती है क्यूंकि आप अपने बैटरी को बदल नहीं सकते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here