Android Root क्या है – रूट करने के फायदे और नुकसान

[ad_1]

क्या आपको पता है एंड्रॉइड रूट क्या है? रूट करने के फायदे और नुकसान क्या है? आप में से बहुतो के मन में ये सवाल आते होंगे. हमारे common readers ये सवाल रोज पूछते है के एंड्राइड root क्या होता है. तो आज में आपको इसके बारे में main points में बताऊंगा.

आप सभी को पता ही होगा के Android एक cellular working gadget है. बस इतना ही नहीं, cellular में use किया जाने वाला सारे working methods (OS) में से ये most sensible में है. क्यूँ की आपको हर दुशरे के हातों में एक एंड्राइड smartphone देखने को मिल ही जाता है.

एक OS काम होता है consumer और software के {hardware} के बिच hyperlink बनाये रखना. जब consumer कोई command देता है तो OS के जरिये वो command {hardware} तक पहुंचता है और फिर procedure होके consumer को एक output देता है. आप cellular को ले या laptop को, हर software में ये इस प्रकार काम करता है. तो चलिए आज जान लेते हैं की Android Root क्या होता है?

एंड्रॉइड रूट क्या है – What’s Android Root in Hindi

Android Root Kya hai

जब कोई corporate एक instrument बनता है तो इसके साथ कुछ obstacles भी upload कर देता है, ताकि इसका कोई गलत इस्तिमाल ना कर सके. एंड्राइड एक Linux based totally working gadget है. अगर अपने कभी Linux use किया है तो आपको जरुर पता होगा के ये एक open supply OS है और ज्यादातर लोग इसे safety और hacking केलिए इस्तिमाल किया करते है.

आप अपनी एंड्राइड smartphone में भी ऐसे बहुत सारे काम कर सकते है, अगर वो root किया गया हो तो. Root का मतलब होता है जड़; ये आपको एंड्राइड के जड़ तक पहुँचाने में मदद करता है. बिना root का Android telephone में आप ये सब नहीं कर सकते. क्यूँ की आपको उसके gadget recordsdata को get admission to करने का permission नहीं होता.

जब आप laptop में कोई instrument के ऊपर right-click करते है तो आपको “Run as administrator” का choice आता है. ऐसे ही जब आप अपनी cellular को root कर देते है तो आप अपनी telephone को एक administrator energy से use कर पाएंगे. आप ये भी कह सकते है के rooted Android smartphone में आपको कुछ भी करने की आज़ादी है. क्यूँ की root से उसके सारे obstacles हट जाते है.

Android Telephone को Root कैसे करें ?

अपने Android Telephone को हम दो तरीकों से root कर सकते हैं. पहले laptop की मदद से और दूसरा बिना laptop के मदद से. इनमें से बिना laptop के मदद से Android Telephone को root करना बहुत ही आसान काम है और इसे कोई भी कर सकता है. इसके लिए आप KingRoot App का इस्तमाल कर सकते हैं.

Step #1 सबसे पहले आपको Kingroot के professional web site में जाकर kingroot के newest model को obtain करना होगा.

Step #2 यदि आपने कभी पहले web से app obtain नहीं किया है तब आपको इसके लिए अपने telephone में कुछ surroundings alternate करना होगा ताकि वो app आसानी से set up हो सके.

Step #3 इसके लिए आपको telephone के surroundings में जाना होगा फिर safety में click on करना होगा. इसके बाद unknown resources के choice में जाकर उसे permit करना होगा. इसके पश्चात आप आसानी से कोई भी app set up कर सकते हैं.

Step #4 यहाँ पर Kingroot को set up कर लें.

Step #5 इसे set up करने के बाद आपको “root get admission to unavailable” का standing दिखायेगा और उसके निचे आपको “Get Now” का button भी दिखेगा जिसे आपको click on करना है. इस click on करने पर rooting चालू हो जायेगा और 97% में रुक जायेगा.

Step #6 इसके बाद आपको proceed में click on करना है. इससे app का purify gadget obtain होने लगेगा.

Step#7 Obtain whole हो जाने पर आपका telephone पूरी तरह से root हो जायेगा. इसके बाद standing में “optimum state” लिखा नज़र आएगा.

Android Telephone Root है की नहीं Test कैसे करें ?

ये सवाल आपके मन में जरुर आया होगा की मैंने अपने telephone को root तो कर लिए लेकिन हमे कैसे पता चले की अपना Android Telephone root है की नहीं test कैसे करें. इसका जवाब बहुत ही आसानी से दिया जा सकता है. क्यूंकि Google के Playstore में एक App है जिसका नाम है Root Checker जिसके इस्तमाल से आप अपने telephone के root standing के विषय में जान सकते हैं.

इसमें अगर आपका telephone rooted होगा तब ये आपको inexperienced color standing दिखायेगा और लिखेगा की Root get admission to is correctly put in.

वहीँ अगर आपका telephone root नहीं हुआ हो तब यहाँ पर आपका Pink color standing दिखायेगा और लिखेगा की Root get admission to isn’t correctly put in. इससे आपको अपने Android Telephone का Root Standing पता चल जायेगा.

Root करने के फायेदे – Advantages of Android Rooting

Root करने के फायदे बहुत होते है. इसीलिए हर कोई जानना चाहता है Android rooting के बारे में. मैंने निचे कुछ महत्वपूर्ण issues दिया है, जिससे आपको ये समझने में आसानी होगी के telephone root करने से क्या होता है.

1# अपने Telephone की Efficiency और Battery Existence: अगर आपका cellular rooted है तो आप programs के मदद से इसको overclock करके इसकी efficiency को बाधा सकते है. साथ ही साथ underclock करके इसकी बैटरी लाइफ को building up भी कर सकते है. पर आपको ये दोनों एक साथ नहीं कर सकते. आपको इनमे से एक procedure को चुनना होगा. आप चाहे तो दोनों के बिच steadiness करके pace और battery दोनों को बाधा सकते है.

2# आप Incompatible Apps Set up कर सकते हैं : कुछ पुराने apps नए एंड्राइड variations में काम नहीं करते. पर root की मदद से आप उन्हें भी चला सकते है. कुछ app पूरी तरह से ना चल पाए, पर कुछ हद तक चल जाते है.

3# Machine Apps Uninstall कर सकते हैं : जो apps आपके फ़ोन के साथ आते है उन्हें gadget apps कहा जाता है. ये apps को आप uninstall नहीं कर सकते. पर एक rooted cellular में ये सम्भब है.

4# बहुत से Root Simplest Apps Run कर सकते हैं : कुछ apps ऐसे भी है जो बिना root get admission to के नहीं चलते. आप उन्हें आराम से चला सकते है और अपनी cellular का characteristic भी building up भी कर सकते है.

5# Customization कर सकते हैं : Customized ROM के मदद से आप अपनी cellular को एक नया glance दे सकते है. इसके साथ साथ उसके icons, notification bar, colour, font और ऐसे बहुत सारे parts को alternate कर पाएंगे.

6# आप Complete Instrument Backup ले सकते हैं : Titanium Backup के नाम से एक software है. जिसके मदद से आप अपनी सारी information का backup ले पाएंगे. अगर मान लीजिये के कभी आपकी cellular में कुछ downside आ जाता है या फिर आप फ़ोन को layout करते है, तब आप फिर से उसके पुराने की तरह कर पाएंगे.

Root करने के नुख्शान – Demerits of Android Rooting

हर सिक्के का दो पहलु होते है। इसी तरह हर काम का 2 नतीजा निकलता है. Android root बस फायेदे नहीं देता कुछ नुक्सान भी करता है. चलिए जानते है के वो सब क्या है.

1# आपका Telephone ख़राब हो सकता है :

इसका मतलब आपका फ़ोन पूरी तरह से ख़राब हो सकता है. अगर आपका rooting methodology ठीक से काम नहीं करता, तब आपका telephone और boot नहीं लेता और एंड्राइड emblem में रुक जाता है. अगर आप positive नहीं है तो आपको take a look at नहीं करना चाहिए.

2# Rooting से Guaranty नष्ट होती है :

हर telephone एक साल की guaranty के साथ आता है. अगर आप उसे root कर देते है, तो उसकी guaranty चला जाता है. पर आपको डरने की कोई जरुरत नहीं. अगर आप उसे unroot कर देते है, तो guaranty फिर से लागु हो जाता है. क्यूँ की provider heart वाले कभी भी पता नहीं कर पाएंगे के आपका telephone पहले root किया गया था.

3# ज्यादा Replace Factor होता है :

Root के साथ आप अपनी smartphone को कभी भी नया Android model को replace नहीं कर सकते. आपको पहले unroot करना होगा, उसके बाद जाके आप उसके replace कर पाएंगे. कभी कभी unroot करने के बाद भी replace काम नहीं करता. इस case में आपको अपनी telephone को layout करना होगा. और एक downside है के replace करने के बाद पहला rooting process आपके cellular में काम नहीं करता. हर एक नया एंड्राइड model के साथ एक नया rooting process आता है.

क्या ऐंड्रॉड फ़ोन की रूटिंग करना सही है?

इसका जवाब हाँ भी है और नहीं भी। हाँ इसलिए क्यूँकि इससे आप बहुत से नए options पा सकते हैं जो की आपको पहले के ऐंड्रॉड फ़ोन में नहीं मिलते हैं। वहीं ना इसलिए क्यूँकि इससे आपके फ़ोन की वॉरंटी चली जाती है। इसलिए रूटिंग हमेशा पुराने फ़ोन पर करना चाहिए।

फ़ोन की रूटिंग को IOS में क्या कहते हैं?

फ़ोन की रूटिंग को IOS में JAIL Breaking कहते हैं।

क्या मैं अपना फोन मुफ्त में रूट कर सकता हूं ?

हाँ। आप अपने एंड्रॉइड फोन को रूट करने के लिए फ्री ऐप्स का उपयोग कर सकते हैं। ये ऐप फोन को रूट करने में सक्षम होते हैं।

क्या Android Root से मेरे डिवाइस की guaranty समाप्त हो जाती है ?

हां, एंड्रॉइड रूट आपके डिवाइस की वारंटी को समाप्त कर देती है । अपने फोन को रूट करने का मतलब है कि आप उत्पाद को इस तरह से उपयोग कर रहे हैं कि यह निर्माता द्वारा निर्धारित नहीं है। इसलिए, उस स्थिति में, आप अपने मोबाइल को वारंटी के अंतर्गत प्रतिस्थापित नहीं कर सकते।

Android Rooting App क्या होते हैं ?

Android Rooting Apps ऐसे systems होते हैं जो की आपको अपने फ़ोन या किसी डिवाइस के ऊपर पूरा नियंत्रण प्रदान करते हैं। ये आपकी मदद करते हैं आपके फ़ोन की pace और battery lifestyles को बढ़ाने के लिए. ये एप्लिकेशन आपको किसी भी ऐप में विज्ञापन को ब्लॉक करने में सक्षम बनाते हैं। ऐसे कई कार्यक्रम आपको महत्वपूर्ण फाइलों तक पहुंचने में सक्षम बनाते हैं जो आमतौर पर आपके मोबाइल में छिपी होती हैं।

आज आपने क्या सीखा

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को एंड्रॉइड रूट क्या है (What’s Android Root in Hindi)? के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को Root क्या है के बारे में समझ आ गया होगा. मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Percentage करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने readers या पाठकों का हर तरफ से हेल्प करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा.

आपको यह लेख Android root kya hai aur root karne ke fayde aur nuksan कैसा लगा हमें remark लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले. मेरे पोस्ट के प्रति अपनी प्रसन्नता और उत्त्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Fb, Twitter इत्यादि पर percentage कीजिये.

Leave a Comment