सिग्नल क्या है – Sign Non-public Messenger की जानकारी हिंदी में

[ad_1]

Sign Messenger एक बहुत ही safe encrypted messaging app है. इसे आप एक बेहद ज़्यादा non-public विकल्प मान सकते हैं WhatsApp, Fb Messenger, Skype, iMessage, और SMS का.

Sign अभी के समय में उपलब्ध है बहुत से प्लाट्फ़ोर्म में, जिनमें शामिल हैं Android, iPhone, और iPad. वहीं इसके साथ एक Sign desktop consumer भी महजूद हैं Home windows, Mac, और Linux के लिए. वहीं इसमें sign up for या जुड़ने के लिए, आपको केवल अपना फ़ोन नम्बर का ही इस्तमाल करना पड़ेगा. वहीं ये बिलकुल ही मुफ़्त सेवा है.

वहीं यदि आप Sign Messenger से सम्बंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तब आपको यह आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा. आज इस पोस्ट में बताएँगे की Sign Messenger क्या है और इसे कैसे इस्तेमाल करते हैं और क्या ये WhatsApp से बेहतर है?

Table of Contents

सिग्नल मैसेंजर क्या है – What’s Sign App in Hindi

 signal messenger kya hai

Sign Non-public Messenger इसका नाम शायद आपने सुना होगा. Sign एक क्रॉस-प्लेटफॉर्म मैसेज सेवा है. जिसे Sign Basis और Sign Messenger के द्वारा विकसित किया गया है.

सही मयिने में देखा जाए तब Sign पूरी तरह से एक open-source सॉफ़्ट्वेर है. यानी की इसका supply code जो की mission के consumer apps और server tool में इस्तमाल होता है, वो उपलब्ध है GitHub पर.

Sign App को तैयार किया गया है Moxie Marlinspike जी के द्वारा, जो की एक American cryptographer भी हैं. वहीं वो अभी के समय में Sign Messenger के CEO भी हैं.

यह एक-से-एक और समूह संदेश भेजने के लिए इंटरनेट का उपयोग करता है. जिसमे हमारी Information, Voice Notes, Photographs और Movies को एक व्यक्ति से दूसरी व्यक्ति तक भेजा जाता है. इसका इस्तेमाल वन-टू-वन और Crew Voice और Video Name करने के लिए भी किया जा सकता है.

Sign Messenger के CEO कौन है?

Sign Messenger के CEO हैं Moxie Marlinspike.

सिग्नल ऐप के फीचर्स

आप ये तो जान ही गये होगे की Sign App क्या है. चलिए जानते है इसके Options के बारे में.

1. इसमें आपके chatting, Video Calls और Voice Calls को 100% प्राइवेट रखा जायेगा. इसको किसी के साथ शेयर नहीं किया जायेगा.

2. इसमें आप Screenshot Block कर सकते हो मतलब जो आपकी Chatting Messages हैं उसका कोई भी screenshot नहीं ले सकता.

3. इस App के होम पर आपको Privateness का आप्शन मिलेगा. जिससे आप अपने Sign App पर लॉक लगा सकते है. इससे आपके App में बिना पासवर्ड डाले कोई एंट्री नहीं ले सकता. जो Password आप अपने Cellular को खोलते समय डालते हो वही पासवर्ड इसमें भी आपको डालना होता है.

4. इस App में Learn Recipts का आप्शन दिखाई देगा. अगर आप इसे On करोगे तो आपके सामने वाले को यह नहीं पता चलेगा की आपने मैसेज देखा या नहीं.

5. इस App में आपको Typing Signs का आप्शन मिलेगा.  जिससे सामने वाले को Typing करता हुआ नहीं दिखायेगा.

6. आप इसकी सेटिंग में जाकर Appearence पर क्लिक करके theme बदल सकते हैं.

7. अगर आप किसी और भाषा में chatting करना चाहते हैं तो आपको इसमें Language बदलने का आप्शन भी मिल जायेगा.

8. Chat Backup की मदद से आप अपनी Chat का Backup कर सकते हैं.

9. आप इसमें यह भी देख सकते हैं की आपने किसके साथ सबसे ज्यादा Chatting की है.

तो जैसे की आपने इसके खास Options देखे जो की WhatsApp से कई ज्यादा अच्छे हैं. आपको इसमें ऐसे Options मिलते हैं जो की WhatsApp में नहीं मिलेंगे.

सिग्नल ऐप डाउनलोड कैसे करे?

Sign Messenger डाउनलोड करने के लिए आप Google PlayStore या फिर Apple स्टोर का इस्तमाल कर सकते हैं.

वहां पर जाकर आपको Seek करना होगा, Sign Messenger. इसके बाद आप उन्हें अपने डिवाइस पर Set up कर सकते हैं. ये App निशुल्क है.

सिग्नल मैसेंजर का इस्तेमाल कैसे करे?

आप जिस तरह whatsapp का इस्तेमाल करते हैं, उसी तरह आपको इसका इस्तेमाल करना है.

#1 गूगल प्ले स्टोर या ऐप स्टोर पर जाकर इसे डाउनलोड करें.

#2 फिर अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर करें.

#Three इसके बाद आपको Verification Code मिलेगा. जिसके बाद ये App आपके Cellular को Authorize करेगा.

#Four Verification हो जाने के बाद आप अपना एक नाम और अवतार चुन सकते हैं.

#Five हालाँकि इसका इंटरफेस whatsapp से अलग है. लेकिन आपको सभी Options मिलेंगे.

#6 आप सर्च टैब में जाकर कॉन्टेक्ट्स को सर्च कर सकते हैं. उनके साथ फोटो, वीडियो या टेक्स्ट शेयर कर सकते हैं.

सिग्नल का इस्तेमाल क्यों करे?

आप सोच रहे होंगे की हम Sign App का प्रयोग क्यों करें. जबकि अन्य Messaging App भी कन्वर्सेशन Encrypt करने के लिए उसी Protocol का प्रयोग करते हैं.

यहां याद रखना महत्वपूर्ण बात यह है कि इन अन्य चैट एप्लिकेशन (Fb और Google) के पीछे की कंपनियां केवल आपको विज्ञापन बेचने के लिए आपके बारे में इनफॉर्मेशन कलेक्‍ट करने में रुचि रखते हैं.

तथ्य यह है कि Fb और Google डिफ़ॉल्ट रूप से आपके कान्वर्सैशन के लिए एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन एनेबल नहीं कर रहे हैं.

WhatsApp डिफ़ॉल्ट रूप से एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन को एनेबल करता है जो सुनिश्चित करता है कि आपके कान्वर्सैशन प्राइवेट रहें, लेकिन फेसबुक के स्वामित्व वाला मैसेजिंग ऐप अब भी ऐप के भीतर आपकी एक्टिविटी को स्टोर कर सकता है.

क्या Sign App, WhatsApp से बेहतर है?

हाँ, Privateness Options के मामले में Sign App, WhatsApp से बेहतर है. हालाँकि, अगर आप ऐप के फीचर्स की परवाह करते हैं और मैसेजिंग ऐप का उपयोग कौन कर रहा है, तो व्हाट्सएप आगे है.

किसी भी मैसेजिंग ऐप का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा वे लोग हैं जो इसका उपयोग करते हैं. अगर आपका पूरा सामाजिक दायरा व्हाट्सएप पर है, तो कोई भी फीचर Sign App को अधिक आकर्षक नहीं बना सकता है.

सिग्नल ऐप का मालिक कौन है?

इस Sign Non-public Messenger App को American क्रिप्टोग्राफर मॉक्सी मार्लिनस्पाइक (Moxie Marlinspike) ने तैयार किया है और यही Sign Messenger App के CEO हैं.

सिग्नल ऐप किस देश का है?

क्या आप जानते हैं की Sign App किस देश का है? तो हम आपको बता दे की Sign App एक अमेरिकन कंपनी Sign Messenger LLC का है. यानि की Sign App अमेरिका देश का है.

क्या सिग्नल ऐप पर भरोसा किया जा सकता है?

जी हाँ, आप Sign App पर believe कर सकते हैं. Sign के conversations पूरी तरह से end-to-end encrypted होते हैं हमेशा. इसका मतलब है की इन्हें केवल पढ़ा और सुना जा सकता है भेजे गए recipients के द्वारा ही.

क्या सिग्नल ऐप इस्तमाल के लिए सुरक्षित है?

जी हाँ, Sign APP पूरी तरह से secure है इस्तमाल के लिए. क्यूँकि इसमें end-to-end encryption protocols का इस्तमाल होता है, जो की आपके सभी कम्यूनिकेशन को safe करता है दूसरे Sign customers के साथ.

क्या सिग्नल मेसेज को किसी सर्वर पर स्टोर किया जाता है?

जी नहीं, sign messages को किसी भी सर्वर पर retailer नहीं किया जाता है दूसरे messaging apps के तरह.

सिग्नल मेसेज को कहाँ पर स्टोर करता है?

Sign messages को केवल आपके डिवाइस पर ही retailer करता है.

क्या मेसेज सच में प्राइवेट होता है?

जी नहीं. ये non-public नहीं है लेकिन ये सुरक्षित होता है end-to-end encryption के द्वारा, जिसमें encryption key को आपके डिवाइस में retailer किया गया होता है.

सिग्नल ऐप का क्या इस्तमाल होता है?

Sign app एक messaging app है जिसमें आपको कई options देखने को मिलेंगे जैसे की one-to-one messages, teams, stickers, pictures, document transfers, voice calls, और video calls भी.

वहीं इसके साथ आप staff chats भी कर सकते हैं 1000 लोगों के साथ और staff calls भी आठ लोगों के साथ.

क्या सिग्नल मैसेंजर को हैक किया जा सकता है?

जी नहीं, Sign मेसेंजर को hack नहीं किया जा सकता हैं. चूँकि इसके messages के metadata hidden होते हैं, जिससे इसे हैक करना मुमकिन नहीं होता है.

यदि कोई चाह कर भी आपके Sign message को इंटर्सेप्ट करता है, तब वो इसे पढ़ नहीं सकते हैं क्यूँकि मेसजेज़ encrypted होते हैं. वहीं metadata को hidden रखने का मतलब है की अरिजिनल message के सही लोकेशन का नहीं पता चलना.

क्या सिग्नल मैसेंजर पर विडियो कॉल किया जा सकता है?

जी हाँ आप Sign Messenger के Android और iOS Apps से video calls कर सकते हैं. PC और iPad apps में भी हाल ही में ये फ़ीचर को शामिल किया गया है.

आज आपने क्या सीखा

ये थी कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी Sign app के बारे में. मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को सिग्नल मैसेंजर क्या है (What’s Sign App in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी दी. में आशा करता हूँ आप लोगों को Sign Messenger के बारे में समझ आ गया होगा.

यदि आपके मन में इस article सिग्नल ऐप की जानकारी को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच feedback लिख सकते हैं. हम आपको इस App के आने वाली सभी replace के बारे में ज़रूर इस पोस्ट में बताएँगे.

आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा. यदि आपको मेरी यह put up सिबिल स्कोर कैसे सुधारे हिंदी में अच्छा लगा हो या इससे आपको कुछ सिखने को मिला हो तब अपनी प्रसन्नता और उत्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Fb, Twitter इत्यादि पर proportion कीजिये.

Leave a Comment