दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है?

[ad_1]

दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है?

हमारे इस बड़ी सी दुनिया में बहुत सारे लोग रहते हैं और उन सभी लोगों के साथ उनका धर्म भी रहता हैं जो एक दूसरे से काफी अलग है. तो यह कहा जा सकता है कि इस बड़ी इस दुनिया में जितने अलग-अलग लोग हैं, उतने ही अलग-अलग धर्म भी है. यह धर्म एक-दूसरे से बिल्कुल अलग होते हैं. साथ ही इनकी मान्यताएं और उनका पालन करने का ढंग भी एक-दूसरे से बिल्कुल अलग होता है.

लेकिन परेशानी तब आती है जब लोगों से सवाल किया जाता है कि दुनिया सबसे बड़ा धर्म? यह एक ऐसा सवाल है जिसका जवाब कोई नहीं दे सकता है और अगर कोई इस सवाल का जवाब देता भी है, तो वह अपने धर्म को ही सबसे बड़ा धर्म बताता है.

दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है?

आंकड़े के अनुसार दुनिया का सबसे बड़ा धर्म ईसाई धर्म है. वैसे तो कोई धर्म बड़ा और कोई धर्म छोटा नहीं है. सभी धर्म एक समान है. लेकिन अगर आंकड़े के ऊपर बात करें तो इन धर्मों को मानने वाले लोगों के जनसंख्या के अनुसार यह कहा जा सकता है कि कौन से धर्म बड़ा और कौन सा धर्म छोटा है.

sabse bada dharm kaun sa hai

चलिए और विस्तार पूर्वक जानते हैं कि दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है? अलग-अलग धर्मों को मानने वाले लोगों की जनसंख्या के अनुसार सबसे बड़े धर्म हैं.

ईसाई धर्म – ईसाई धर्म को दुनिया का सबसे बड़ा धर्म माना जाता है क्योंकि पूरी दुनिया में 31 फ़ीसदी आंकड़ा ईसाई धर्म का पालन करने वाले लोगों का है. 2.2 अरब से भी अधिक लोग ईसाई धर्म का पालन करते हैं.

इस्लाम धर्म – दुनिया के सबसे बड़े धर्मों में इस्लाम धर्म का नाम दूसरे नंबर पर आता है. इस्लाम धर्म का पालन करने वाले लोग मुसलमानों के नाम से जाने जाते हैं. ईसाइयों के बाद पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्लाम धर्म का पालन किया जाता है. 1.6 अरब मुसलमान इस्लाम धर्म को मानते हैं.

हिंदू धर्म – दुनिया के सबसे बड़े और महान धर्मों में हिंदू धर्म का नाम तीसरे नंबर पर आता है. पूरी दुनिया में हिंदू धर्म का पालन केवल एशिया महादेश के भारत देश में किया जाता है और उसके बाद भी इस धर्म का पालन करने वाले लोगों की संख्या 1 अरब यानी 100 करोड़ से भी अधिक है. जो स्वयं ही इस धर्म की महानता को प्रदर्शित करता है.

बौद्ध धर्म – दुनिया के सबसे बड़े धर्मों में चौथे नंबर पर बौद्ध धर्म का नाम आता है. बौद्ध धर्म की उत्पति भारत देश से हुई थी लेकिन आज बहुत से ऐसे देश हैं, जहां बौद्ध धर्म का पालन किया जाता है जैसे जापान, नेपाल, चीन इत्यादि. पूरी दुनिया में five फ़ीसदी आंकड़ा बौद्ध धर्म का पालन करने वाले लोगों का है. पूरी दुनिया में 37 करोड़ लोग बौद्ध धर्म का पालन करते हैं.

सिख धर्म – वैसे तो बौद्ध धर्म के तरह सिख धर्म का जन्म भी भारत से ही हुआ था. लेकिन आज यह धर्म भारत के अलावा भी अन्य कई देशों में माने जाते हैं. पूरी दुनिया में 2.three करोड़ लोग सिख धर्म का पालन करते हैं. सिख धर्म का पालन करने वाले लोगों को पंजाबी कहा जाता है.

जैन धर्म – जैन धर्म का सबसे ज्यादा पालन हमारे देश में किया जाता है और वही पूरी दुनिया की बात की जाए तो पूरी दुनिया में 42 लाख लोग जैन धर्म का अनुसरण करते हैं. जैन धर्म का पालन करना अन्य धर्मो के मुकाबले सबसे मुश्किल है.

दुनिया का सबसे अच्छा धर्म कौन सा है?

दुनिया का सबसे अच्छा धर्म इंसानियत है. इंसानियत से बड़ा कोई धर्म नहीं हैं और अगर आपके अंदर इंसानियत है, तो आप एक अच्छे धर्म का अनुसरण कर रहे हैं.

दुनिया का सबसे पुराना धर्म कौन सा है?

दुनिया का सबसे पुराना धर्म हिंदू धर्म है. ऐसा माना जाता है कि इसकी उत्पत्ति 9057 ईसा पूर्व हुई थी. लेकिन अगर स्रोतों की माने तो वर्तमान आंकड़े के मुताबिक हिंदू धर्म 12 से 15 हजार वर्ष प्राचीन और पुख्ता सबूतों के हिसाब से हिंदू धर्म 24 हजार वर्ष पुराना धर्म हैं.

दुनिया का सबसे पवित्र धर्म कौन सा है?

वैसे तो सभी धर्म अपने आप में पवित्र हैं लेकिन उन सभी धर्मों में हिंदू धर्म सबसे पवित्र और विशाल माना जाता है.

दुनिया का सबसे खतरनाक धर्म कौन सा है?

दुनिया का सबसे खतरनाक धर्म वह धर्म हैं, जिसमे उस धर्म का पालन करने वाले लोग अपने आंखों पर अंधी पट्टी बांध कर हर तरह की कुरीतियों और रूढ़िवादी विचारों का पालन करते हैं. और अधिकतर हिंदू धर्म में इस तरह की कुरीति देखी जाती हैं इसलिए कहा जा सकता है कि हिंदू धर्म दुनिया का सबसे खतरनाक धर्मों में से एक हैं.

दुनिया का सबसे महान धर्म कौन सा है?

दुनिया का सबसे महान धर्म जैसा कोई धर्म नहीं हर धर्म अपने आप में महान है.

दुनिया का सबसे गंदा धर्म कौन सा है?

दुनिया का सबसे गंदा धर्म कौन सा है यह प्रश्न एक गलत प्रश्न है.

सबसे ज्यादा धर्म कौन से महाद्वीप में पाया जाता है?

एशिया महादेश को धर्मों का देश भी कहा जाता है एशिया महाद्वीप के भारत देश में सबसे अधिक और अलग-अलग धर्म देखने को मिलते हैं.

सनातन धर्म से पहले कौन सा धर्म था?

आंकड़ों की मानें तो सनातन धर्म से पहले हिंदू धर्म था.

एशिया महाद्वीप का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है?

आंकड़े के अनुसार एशिया महाद्वीप का सबसे बड़ा धर्म इस्लाम धर्म है. एशिया महाद्वीप में इस्लाम धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या 1.1 अरब हैं.

पृथ्वी का सबसे पहला धर्म कौन सा है?

पृथ्वी का सबसे पहला धर्म हिंदू धर्म है. हिंदू धर्म को वैदिक सनातन वर्णाश्रम धर्म के नाम से भी जाना जाता है.

मुझे उम्मीद है कि इस पोस्ट को पढ़कर आप जान गए होंगे कि दुनिया का सबसे बड़ा धर्म कौन सा है? अगर आपको हमारा यह काम पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में भी जरूर शेयर कीजिए.

हम आपके लिए इस तरह के बेहतरीन और जानकारियों से भरा पोस्ट लेकर आते रहते हैं इसीलिए हमारे ब्लॉग से जुड़े रहिए. इस पोस्ट में बताएं गई जानकारी आपको कैसी लगी, यह नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताइए!

Leave a Comment