गूगल क्या है और किसने बनाया है

0
55


आप में से कितनो को पता है के Google क्या है.आज से 15 से 20 साल पीछे चले जाएँ तो तब Web तो था लेकिन तब data की काफी कमी थी. Knowledge लोगों के पास था लेकिन वो web में इतना नहीं था. आज जैसे आप भी बहुत कुछ web में ढूंडते तो, वैसे ही 10 से 15 साल पहले लोग किताबों में, या फिर किसी से पूछ के जानकारी हासिल करते थे.

लेकिन लोगों से पूछ के जानकारी हासिल करना बोहत ही बड़ी समस्या थी उस दोर में, इसके साथ तब कुछ web site भी थी लेकिन कोनसी web site में कोनसी जानकारी सही है, या जल्दी से कोई जानकारी मिल जाए जैसी बोहत सी समसया थी.

तभी उसी वक्त दो नोजवान लड़के इस समस्या का समाधान लेके अये उसका समाधान Google के जरिये हुआ और वो लड़के कोन थे. गूगल क्या होता है, किसने बनाया है और कैसे Google की सुरुवात हुई, कुछ और जानकारी मैं आपको दूंगा तो चलिए सुरु करते हैं.

गूगल क्या है – What’s Google in Hindi

google kya hai hindiगूगल एक अमेरीकी बहुराष्ट्रीय सार्वजनिक कम्पनी है, जिसने इंटरनेट सर्च, क्लाउड कम्प्यूटिंग और विज्ञापन तंत्र में पूँजी लगायी है.

गूगल दुनिया की सबसे बड़ी Seek engine है. इसमें आप कुछ भी Seek करोगे आप को जरुर मिल जाये गा. यह तो आम तोर पर हर कोई सोचता है लेकिन इसका जवाब यहाँ पे ख़तम नहीं होता इसका सही जवाब है “ये एक Multinational Corporate है, Seek Engine के साथ साथ इसके कुछ और industry है जैसे Web Analytics, Cloud Computing की सेवा भी देती है.

उदाहरण के लिए आप इस्तेमाल करते है Google pressure, बिज्ञापन सेवा, utility (play Retailer से जो utility आप obtain करते हो), इसका अपना खुद का ब्राउज़र है Chrome नाम का, और अपना खुद का Running Machine (Android), इन सभी के जरिये Google अपना Source of revenue करती है.

2016 में इसने अपनि दिलचस्पी Cellular Trade के उपर दिखायी और एक नया Cellular लेके आई जिसका नाम है Google Pixel जो की marketplace में छा गया. इसके साथ साथ Map, e mail और 20 से भी ज्यादा Product दुनिया में हैं जिनके बारे में आज आगे आपको बताऊंगा.

आप इस Corporate की Source of revenue के बारें में जानो गे तो आपके होस उड़ जायेंगे फिर भी जान लें की ये एक दिन में $ 1 Million US Buck कमाती है और मतलब की करीबन 6,85,22,50,000 रूपया. क्या आप ये जानना चाहोगे की Google का इतिहास क्या है तो चलिए जानते हैं.

गूगल नाम कैसे चुना गया?

Edward Kasner और James Newman के द्वारा लिखे गए किताब Arithmetic and Creativeness में लिखे गए शब्द googol के से प्रेरित होकर Larry Web page और Sergey Brian ने अपने सर्च इंजन का नाम चुना. Googol का मतलब होता है 1 के पीछे 100 0.

गूगल का इतिहास – Historical past of Google in Hindi

वैसे आज के वक्त में Google एक अरबो खरबों की corporate है, जिसने Oxford Dictionary में अपनि खुद की जगह बना राखी है, जो की एक क्रिया है.

पढ़ें: गूगल का फुल फॉर्म क्या है

गूगल की खोज किसने की?

लेकिन इसको बनाने में दो PHD Scholars का हाथ था जिनका नाम है Sergey Brin और Larry Web page जो की Stanford College, California के छात्र थे, 1995 में वे वहीँ पे आपस में मिले थे और वही से इस Seek engine की सुरुवात हुई.

1996 में Sergey Brin और Larry Web page जब PHD पढाई कर रहे थे उन्होंने अपना PHD का reSearch challenge में कुछ अलग करने की सोची और वो सोचे थी “अगर हम Site को Rank करें दुसरे web site के साथ तुलना करके, तो काफी अच्छा होगा, उस वक्त उनका रैंक करने का तरीका ये था, जितनी बार Seek किया गया सब्द, उस webpage में होगा उस हिसाब से वो rank करगें और यही कल्पना आज Google का रूप है. सुरुवात में उन्होंने इसका नाम BACKRUB दिया था.”

1997 में दोनों ने Seek engine का नाम “Google” दिया जो की “googol” है हकीकत में, ये एक mathematical सब्द है और Google इस googol को गलत लिखने से बना ये अजब सचाई है. googol का मतलब है 1 के पीछे 100 0.

1998 में ही Google का पहला doodle homepage बना था, लेकिन अब Google 2000 से भी ज्यादा doodle house web page बदलता है पुरे दुनिया में, और अभी के समय में doodle की एक staff है.

सन 2000 में AdWords की सुरुवात की, और अब Google On-line Commercial की सेवा देने वाली दुनिया की सबसे बड़ी corporate है, जो की बड़े बड़े industry को a success बना दी है. textual content advert, Video advert और cell advert की सेवा देती है और इसके बदले में पैसा लेती है.

2004 April Idiot वाले दिन इस corporate ने Gmail को release किया, इसके साथ Gmail Knowledge Retailer करने के लिए अच्छा खासा area भी दिया था और अब के समय में और भी ज्यादा दे रहा है.

Google ने 2004-05 में एक Map बनाने वाली Corporate Keyhole को खरीद ली और आज के वक्त यही Map Corporate Google Map नाम से जनि जाती है जो रास्ता दिखाने में, नयी जगह की जानकारी और earth App के जरिये 360 Level View देख सकते हो घर बैठे.

2006 में इस Corporate ने एक बोहत खास Video Sharing Site Youtube को खरीद लिया. अभी के समय में 60 घंत्गे के Video हर एक मिनट में add हो रहे है.

2007 Android को ख़रीदा और ये अभी के समाय का cell tool का सबसे अच्छा working Machine है.

2008 में अपना खुद का browser chrome को marketplace में आया, formally september 2 2008 को release हुआ, ये एक दुनिया का सबसे पसंदीदा browser है.

2011 में Larry Web page Google के नए CEO बने उनसे पहले Eric Schmid थे वो अब government chairman है alphabet के.

2011 में ही Google+ challenge की सुरुवात हुई, इसमें रियल लाइफ sharing characteristic था जैसे fb, twitter

2012 में android 4.1 jelly bean का अपडेट आया, Google nexus 7 pill को release किया गया .

July 9, 2012 Google Now और Google Voice Seek Characteristic की सुरुवात हुई अब ये Google Assistant बन चूका है.

2013 में Google Glass Marketplace में आया. जिसमे चश्मे के जरिये आप अपने Cellular को चला सकते हो.

2015 में VR HEAD SET की सुरुवात हुई थी, अभी ये काफी लोक प्रिय हो चूका है.

2016 में Google Loon Mission की सुरुवात हुई जिससे जहाँ जहाँ web नहीं पोहंचता वहां पर Web को पोहंचाया गया और इसी साल Google का पहला Cellular फ़ोन Pixel Release किया गया था.

Google House की सुरुवात भी 2016 में ही हुई थी, जिसके जरिये आप घर के सारे Digital Tool बोल के चला सकते हो इसके साथ कुछ सवालो के जवाब भी आप जान सकते हो.

2017 में Google के Google i/o में Google.ai को Release किया गया जहाँ पे आपको AI Equipment मिलेंगे और इसके साथ Google Lens की भी सुरुवात हुई जिसके जरिये आप किसी की भी फोटो को लेके आप जान सकते हो वो है क्या ???

तो ये था अब तक का Google का इतिहास तो आगे भी इसे Google आगे चलता रहेगा देखते है क्या कुछ नया लेके आयेगा.

Google Complete Shape in Hindi

GOOGLE का FULL FORM होता है – “GLOBAL ORGANIZATION OF ORIENTED GROUP LANGUAGE OF EARTH

गूगल का मालिक कौन है?

गूगल कंपनी का मालिक Larry Web page और Sergey Brin है.

गूगल के CEO कौन है?

गूगल के CEO है Sunder Pichai जो की भारतीय मूल के है. ये सच में हमारे लिए एक फक्र की बात है की एक भारतीय दुनिया के सबसे बड़े web कंपनी का CEO है.

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की सुन्दर पिचाई जी की हर साल करीब 1200-1300 करोड़ रूपये की तनख्वा पाते हैं.

गूगल किस देश की कंपनी है?

गूगल अमेरिका की कंपनी है जो इसके राज्य कैलिफ़ोर्निया में स्थित है. ये सवाल अक्सर लोगों के दिमाग में आता रहता है. वहीं Google के branches बहुत से देखों में स्तिथ है, उनमें भारत भी शामिल है.

Google के कुछ और Merchandise

यहाँ पे आप जानोगे क्या क्या Google Merchandise है, उनके काम के बारे में और वो किस काम आते हैं. एक एक कर के सीखते हैं.

Seek – इसका इस्तिमाल हर कोई इन्टरनेट यूजर करता है. इसके इस्तमाल से आप Google में कोई भी चीज़ के विषय में खोज सकते हैं.

Android – यह दुनिया के सबसे ज्यादा इस्तिमाल होने वाला मोबाइल OS है. आपको हर एक दुश्रे के हात में यह देखने को मिलेगा.

Chrome Browser – एक ऐसा browser जो की speedy, easy और protected browser हो सभी units के लिए.

Blogger – अपन खुद का BLOG बना सकते हो. ये बिलकुल ही loose carrier होती है जहाँ पर आप अपने ideas लोगों तक पहुंचा सकते हैं.

ChromeOS – Pc और Pc के लिए Running Machine

Gmail – digital e mail सेवा. इससे आप अपने संदेश को e-format में भेज सकते हैं.

Chromecast – इससे आसानी से आप Circulation कर सकते हैं motion pictures, track और बहुत कुछ आपके telephone से आपके TV पर.

Google+ – एक social web site गूगल के द्वारा बनाया गया था, लेकिन इसे google बंद करवा दिया है.

Google Pay – Google Pay अब सबसे आसान तरीका है अपने पैसों को कहीं भेजने के लिए.

Books -जिसमे आपको पढने के लिए बोहत सारी किताबे मिलेंगी वो भी e structure में.

Calendar -जिसमे आप दिन बहर क्या क्या करना चाहते हो, किसी के साथ assembly करना ये सब डिटेल आप यहाँ पे स्टोर कर सकते हो.अपने दोस्त के साथ Match भी Proportion कर सकते हो.

Contacts – आपके circle of relatives और pals के addresses और numbers, को एक साथ रखने के लिए. इन्हें आप synchronize भी कर सकते हैं किसी भी tool में.

Medical doctors – Microsoft Workplace Report को On-line खोलने के लिए ये इस्तेमाल होता है जैसे Phrase, xl, txt.

Google Power – जहाँ अपने Knowledge रख सकते हो और जब चाहो तब Knowledge को Obtain कर सकते हो.

Earth – इसके जरिये आप पूरी दुनिया की शेर कर सकते हो घर बैठे.

Symbol – जिसमे आप कोई भी तस्वीर को Seek कर सकते हो.

Stay – इसमें आप अपने विचारों को notes, lists और voice memos के तरह रख सकते हैं और उन्हें कहीं से भी get right of entry to कर सकते हैं.

Maps – ये एक एसा App है जिसमे आप कोई जगह को बड़ी आसानी से Seek कर सकते हो और जाने के लिए रास्ता भी ढूंड सकते हो.

Google Commercials – Put it up for sale करें ऐसे लोगों को जो की आपके merchandise को seek कर रहे हों.

AdSense – अपने contents को Monetize करें commercials से जिससे आपको उसकी सही कीमत मिल सके.

Analytics – इससे आप buyer की insights को देख सकते हैं, जिससे आप अपनी technique बना सकें.

Google My Trade – अपने industry data को लोगों के सामने लायें Google Seek और Maps में.

Google Wifi – एक speedy sign जो की आपके पुरे घर में sign पहुंचाए.

Google Now – जिसमे आप कोई भी Knowledge को आसानी से Seek कर सकते हो जैसे Google में करते हो,और ये वही Knowledge देता है जिसके बारे में आप Seek करते हो.

Google Patents – इसमें अप लाखो Patents Seek कर सकते हो.

Google Footage – ये On-line जगह है जहाँ आप footage, Movies रख सकते हो. जब चाहो तब obtain कर सकते हो.

Google Allo – एक sensible messaging app जो की आपकी मदद करता है ज्यादा कहने के लिए और ज्यादा करने के लिए.

Google Duo – एक sensible video calling app जिससे आप top quality video calling कर सकें Android और iOS platform में.

Google Translator – जिसमे आप करीबन 100 language को Translate कर सकते हो.

Put on OS – ऐसा OS जो की आपके प्रत्येक minuter को monitor करे जिससे आप ज्यादा are compatible रहो, keep hooked up, keep forward.

YouTube – ये Video Sharing Web page है, इस में जो विडियो Seek करोगे वो यहाँ पे आपको जरुर मिलेगा.

ये थी कुछ जानकारी Google के Merchandise की.

गूगल के संस्थापक – किसके stocks ज्यादा हैं?

अब चलिए जानते हैं की Google corporate में किसके पास कितना proportion है इस Corporate की, वैसे Google का Proportion बहुत से लोगों के पास है लेकिन मैं बस तिन खास लोगों के नाम बताऊंगा जिनके पर stocks की तादाद सबसे ज्यादा है : –

1. Larry Web page – 27.4%
2. Sergey Brin – 26.9%
3. Eric Schmidt – 5.5%

GOOGLE का MISSION STATEMENT क्या है?

Google का challenge observation है “ Our challenge is to organise the arena’s data and make it universally available and helpful”.

हिन्दी में : – “हमारा मकसद है की दुनिया के सभी जानकारियों को सुचारू रूप से व्यवस्थित करना और इसे सार्वभौमिक रूप से सुलभ और उपयोगी बनाना है”.

गूगल अपनी कमाई कैसे करती है – How does Google earn in Hindi

यदि आप ध्यान से देखें तो पाएंगे की Google अपने अधिकतर services and products के लिए आपको price नहीं करता है. वो चाहे तो GMail हो, Video Provider जैसे की YouTube हो, या फिर Google Seek हो. यहाँ पर इन servies को इस्तमाल करने के लिए आपको एक भी रुपयों का भुक्तान नहीं करना पड़ता है. अब सवाल उठता है की जब गूगल हमें इतने सभी loose carrier उपलब्ध करवाता है तब फिर ये अपनी कमाई करता कैसे है ?

सोचने वाली बात ये है की इतनी सारी अनगिनत सेवाएं देने के बावजूद भी गूगल कमाई करने में नंबर 1 कैसे है?

इसका सबसे सठिक जवाब है Commercial से.

जी आपने बिलकुल ही सही सुना. Google ने अपने एक record में ये साफ़ तोर से दर्शाया है की इनकी Source of revenue की 96% से भी ज्यादा कमाई केवल Commercial से ही होती है.

आपको Google या Google में दिखने वाली जितनी भी web pages या blogs पर जो भी commercials दिखाई पड़ते हैं उनमें करीब 70% commercials गूगल के द्वारा ही तैयार किये गए होते हैं. चूँकि Google एक बहुत ही बड़ा Seek Engine है इसलिए इसमें करीब 1 Billion consequence ढूंढे जाते हैं. इससे आप Google के site visitors के बारे में सोच सकते हैं.

तो इसका जवाब है इसकी कमाई का जरिया भी आप ही हैं. जी हाँ “आप” वो कैसे चलिए मैं आपको समझाता हूँ. गूगल एक बहुत promoting कंपनी है और इसके सबसे बड़े प्रोडक्ट आप ही हैं. इसकी 96% जो कमाई होती है वो commercial यानि विज्ञापन के माध्यम से ही होता है. हर दिन गूगल सर्च क्वेरीज के रूप में 1 billion रिजल्ट पूरी दुनिया के लोगों को दिखाता है. इसके साथ ही ये कई billion विज्ञापन भी साथ में लोगों को दिखाता है. का राज़ इनके काम करने के scale में छुपा हुआ है.

इसमें ये आपके सबसे on-line गतिविधियों को monitor कर रहा होता है. इसलिए ये आपको वो सभी commercials दिखता है जिनकी seek आप पूर्व कभी किये हुए होते हैं. इसलिय ज्यादा possibilities हैं की आप इन्हें commercials को click on कर उन चीज़ों को खरीदें. ये customers के hobby के अनुसार ही commercials शो करता है.

ऐसे में सभी लोग जो की Google Products and services का इस्तमाल करते हैं वो एक तरह से इसके merchandise बन जाते हैं. जिन्हें की ये दुसरे firms की promoting करने में मददगार साबित होती है. इसलिए ज्यादातर compaines google commercials का ही इस्तमाल करते हैं अपने merchandise के promotion के लिए.

ये विज्ञापन या advertisiement सेवा कैसे देती है चलिए इस पर एक नज़र डाल लेते हैं.

Google Commercials/Adwords

Adwords” Google की एक web advertising carrier है, जहा advertisers पैसे pay करते है और गूगल उनके industry की promote it सही लोगो तक पहुँचाता है . Adwords की खास बात यह है, आपको पैसे तभी पे करने है जब विजिटर आपकी industry advert पर कोई motion लेता है, परस्पर प्रभाव डालता है.

जो कंपनियां अपनी सेवा को दुसरे लोगों तक पहुँचाना चाहते हैं या फिर अपने merchandise की promotion करना चाहते हैं. वो इन google commercials या Adwords का इस्तमाल करते हैं.

यहाँ पर आपको अपने commercials बनवाने के लिए सभी जरुरी data को प्रदान करना होता है. जिससे की आपके commercials को focused consumers तक आसानी से पहुँच सके. वहीँ ये केवल उन्ही लोगों को दृश्यमान होती है जिन्हें की उन merchandise में दिलचस्पी हो. ऐसे में इस commercials की सुविधा प्रदान करने के लिए बहुत से compaines को Google को पैसे प्रदान करने होते हैं.

Google Adsense

AdSense एक Google का product है जो writer के web site या weblog पे automated textual content, symbol और video के commercials दिखता है.

यहाँ पर Google अपने commercials का इस्तमाल Publishers के web pages या blogs में करता है. इसके लिए वो commercials के click on होने से जितनी भी incomes होती है उसे ये publishers के साथ बाँट देता है. यहाँ पर Google 55% राशी रखता है वहीँ Publishers के खाते में 45% जाती है.

इस तरह के commercial में value in line with thousand influence के रूप में पैसे लिया जाता है. साथ ही पब्लिशर को भी इसमें कुछ शेयर मिलता है.

Google publisher तक advertisers तक लाता है वहीँ publishers भी customers को advertisers तक लाते हैं. ऐसे में Google एक माध्यम का कार्य करता है.

गूगल भारत में किस तरह पॉपुलर हुआ?

Google भारत में इतना ज्यादा standard होने के पीछे का मुख्य कारण है जिओ. जी आपने बिलकुल ही सही पढ़ा है. जब से JIO ने marketplace में Unfastened Web Knowledge प्रदान किया और बाद में भी काफी कम charges में web प्रदान कर रहा है, इसलिए अब लोगों को web browse करने के लिए की YouTube पर video देखने से पहले ज्यादा सोचना नहीं पड़ता है. वो बेझिझक इसका इस्तमाल कर सकते हैं.

एक समय ऐसा भी था जब हमे कोई भी Web के कार्य करने के लिए Web Cafe के ऊपर निर्भर होना पड़ता था. जो की हमसे अपने मन चाहे पैसे वसूलते थे. लेकिन अब समय बदल चूका है अब हमे कहीं जाने की जरुरत ही नहीं पड़ती है Web इस्तमाल करने के लिए. अब आसानी से सभी कोई Google का इस्तमाल अपने जरूरत के सभी चीज़ों के लिए कर रहा है.

इसलिए शायद Google को Google Uncle के नाम से ज्यादा जाना जाता है, क्यूंकि ये हमारे द्वारा पूछे गए किसी भी सवाल का जवाब बड़ी ही आसानी से दे देता है वो भी तुरंत. वहीँ इसके algorithms इतने ज्यादा complex हैं की हमें अपने सवालों के उचित जवाब प्राप्त होते हैं वहीँ ज्यादा खोजने की जरुरत भी नहीं पड़ती है.

दिनबदिन गूगल अपने customers के लिए नई नई सेवाएं ला रहा है. हर साल ये कुछ न कुछ नयी सेवा जरूर लेकर आता है. इसलिए शायद Google केवल भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में अच्छे तरीके से छा चूका है.

Google हिंदी में

तो दोस्तों आज की जानकारी आपको काफी अच्छी लगी होगी, उमीद करता हूँ आपको ये जानकारी आपके काम आये.

वैसे आप इस काबिल तो बनी ही गए हो की Google क्या है (What’s Google in Hindi) इस सवाल का जवाब तो दे सकते हो, वैसे मेरे हिसाब से आगे चलके दुनिया की सारी बड़ी corporate इसके साथ काम करना पसंद करेंगी, और Google धीरे धीरे Device Studying, Deep Studying और Synthetic Intelligence के उपर काम कर रहें है, जिससे इन्शान को अपना दिमाग कम लगाना पड़े, वसे Google का मकसद यही है की इन्सान की जिंदगी आसन होती जाये.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच feedback लिख सकते हैं.

यदि आपको यह submit गूगल के खोजकर्ता कौन है पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Fb,Twitter और दुसरे Social Media पर proportion कीजिये. हमरे Weblog को जरुर Subscribe करें जय हिंद धन्यबाद.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here