ऑस्कर अवार्ड का इतिहास और भारतीय विजेताओं के नाम | Oscar Academy Award Winners Historical past In Hindi

[ad_1]

ऑस्कर अवार्ड का इतिहास और भारतीय विजेताओं के नाम | Oscar Academy Award Winners Historical past In Hindi

ऑस्कर पुरस्कार हॉलीवुड के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार समारोह में से एक है, जो  सालाना आयोजित किया जाता है. ऑस्कर अवार्ड जिसे अकैडमी अवार्ड भी कहते है, एक अमेरिकी अवार्ड्स फंशन है, जो “अकैडमी ऑफ़ मोशन पिक्चर आर्ट्स एवं साइंस” (AMPAS) द्वारा हर साल आयोजित किया जाता है. इस अवार्ड में यूनाइटेड स्टेट (US) की फिल्म इंडस्ट्री को सम्मानित किया जाता है. अलग अलग कैटेगरी के विजेताओं को अकैडमी अवार्ड की प्रतिमा की प्रति दी जाती है, जिसे सब ऑस्कर नाम से पुकारते है. ऑस्कर सबसे पुरानी मनोरंजक अवार्ड समारोह है. टीवी के अवार्ड ‘एमी अवार्ड’, थियेटर के अवार्ड ‘टोनी अवार्ड एवं म्यूजिक व रिकॉर्डिंग  के अवार्ड ‘ग्रैनी अवार्ड’ ऑस्कर जितने ही पुराने है, ऑस्कर के आने के बाद इन्हें भी आधुनिक कर दिया गया. ऑस्कर अवार्ड का इंतजार हर साल पूरी दुनिया के लोगों को बेसब्री से होता है. यह सबसे चर्चित फ़िल्मी अवार्ड समारोह है.

ऑस्कर अवार्ड का इतिहास (Oscar Award Historical past) –

पहले अकैडमी अवार्ड की शुरुवात 16 मई 1929 को हुई थी. यह हॉलीवुड रोसवैल्ट होटल में हुआ था, जो एक प्राइवेट डिनर पार्टी थी, जिसमें 270 के लगभग लोग शामिल हुए थे. तब इसके बारे में आम जनता को कुछ भी नहीं पता था. इसका आयोजन AMPAS  द्वारा हुआ था. इसकी शुरुवात करने का उद्देश्य यही था कि मोशन पिक्चर इंडस्ट्री के प्रतिभागी कलाकारों को सम्मान देना था. पहले ऑस्कर अवार्ड में 12 कैटेगरी थी, जिसमें 2 स्पेशल सम्मान थे. यह अवार्ड उन लोगों को दिया गया था, जिन्होंने 1927-28 में हॉलीवुड में विशेष काम किया था. इस अवार्ड्स फंशन के विजेताओं के नाम समारोह के three महीने पहले ही सबके सामने आ गए थे. मुख्य समारोह में विजेताओं को ट्रोफी दी, यह सिर्फ 15 min की सेरेमनी थी. अकैडमी अवार्ड के पहले प्रेसिडेंट ‘डगलस फेयरबैंक्स’ थे.

oscar-academy-award

पहला ऑस्कर अवार्ड, बेस्ट एक्टर के लिए ‘एमिल जन्निंग’ को फिल्म ‘दी लास्ट कमांड’ और ‘दी वे ऑफ़ आल फ़्लैश’ के लिए मिला था. बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड ‘जेनेट गय्नोर’ को फिल्म ‘7 हेवन’, ‘स्ट्रीट एंजेल’ और ‘सनराइज’ के लिए मिला था. डायरेक्शन के लिए 2 अवार्ड दिए गए थे, एक ड्रामा, जिसमें फ्रैंक बोर्ज़ागे और एक कॉमेडी पिक्चर जिसके लिए लेविस माइलस्टोन को अवार्ड मिला था.

ऑस्कर अवार्ड टेलीकास्ट (Academy Award Telecast) –

1930 में आयोजित अस्कार अवार्ड को पहली बार रेडियो के द्वारा आम जनता तक पहुँचाया गया था. 1953 में रेडियो की जगह टेलीविजन ने ले ली, और पहली बार अवार्ड समारोह को टीवी पर टेलीकास्ट किया गया. अब ऑस्कर अवार्ड का प्रसारण 200 से भी ज्यादा देशों में लाइव होता है. ऑस्कर अवार्ड की शुरुवात में तो उसका रिजल्ट three महीने पहले मीडिया में आ गया था, लेकिन इसके दुसरे समारोह में इसको बदल दिया गया और समारोह के दिन रात को 11 बजे समाचार पत्र में छपने के लिए लिस्ट दे दी जाती थी. लेकिन इस रुल को ‘लॉसएंजिल्स टाइम्स’ ने तोड़ दिया और समारोह शुरू होने से पहले ही विजेताओं की सूचि पेपर में छाप दी. इसके बाद 1941 से सील्ड लिफाफे का उपयोग करते है, जो समारोह के समय ही खोले जाते है.

ऑस्कर अवार्ड कैटेगरी (Academy Award Classes) –

29 वें ऑस्कर अवार्ड में 27 मार्च 1957 को ‘बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म’ कैटेगरी को जोड़ा गया था, इसके पहले फोरेन लैंग्वेज फिल्म को स्पेशल अचीवमेंट अवार्ड के रूप में सम्मानित किया जाता था. 74वें ऑस्कर अवार्ड में सन 2002 में बेस्ट एनिमेटेड फिल्म की कैटेगरी को जोड़ा गया था.

कैटेगरी अवार्ड की शुरुवात हुई
बेस्ट पिक्चर 1928
बेस्ट डायरेक्टर 128
बेस्ट एक्टर इन लीडिंग रोल 1928
बेस्ट एक्टर इन सपोर्टिंग रोल 1936
बेस्ट एक्ट्रेस इन लीडिंग रोल 1928
बेस्ट एक्ट्रेस इन सपोर्टिंग रोल 1936
बेस्ट एनिमेटेड फीचर 2001
बेस्ट एनिमेटेड शोर्ट फिल्म 1931
बेस्ट सिनेमाटोग्राफी 1928
बेस्ट ड्रेस डिजाईन 1948
बेस्ट डॉक्यूमेंटरी फीचर 1943
बेस्ट डॉक्यूमेंटरी शोर्ट सब्जेक्ट 1941
बेस्ट फिल्म एडिटिंग 1934
बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म 1947
बेस्ट लाइव एक्शन शोर्ट फिल्म 1931
बेस्ट मेकअप एंड हेयरस्टाइलिंग 1981
बेस्ट ओरिजिनल स्कोर 1934
बेस्ट ओरिजिनल सोंग 1934
बेस्ट प्रोडक्शन डिजाईन 1928
बेस्ट साउंड एडिटिंग 1963
बेस्ट साउंड मिक्सिंग 1930
बेस्ट विसुअल इफेक्ट्स 1939
बेस्ट राइटिंग (अडोपटेड स्क्रीनप्ले) 1928
बेस्ट राइटिंग (ओरिजिनल स्क्रीनप्ले) 1940

स्पेशल कैटेगरी (Academy Award Particular Classes) –

अकैडमी ऑनर अवार्ड 1929
अकैडमी साइंसटिस्ट एंड टेक्निकल अवार्ड 1931
गॉर्डोन इ. सॉयर अवार्ड 1981
जीन हेर्शोल्ट अवार्ड 1956
इरविंग जी. थाल्बेर्ग मेमोरियल अवार्ड 1938

88 वां अकैडमी अवार्ड समारोह डॉल्बी थियेटर में 28 फ़रवरी 2016 को आयोजित हुआ था, जिसे क्रिस रॉक ने होस्ट किया था. 87 वें अवार्ड समारोह तक टोटल 2947  अवार्ड वितरित हो चुके है.

भारत के ऑस्कर विजेता एवं नामाकंन की सूची (Listing of Indian Academy Award Winners In Hindi) –

साल प्रत्याशी फिल्म का नाम कैटेगरी/हॉनर अवार्ड रिजल्ट
1958 महबूब खान मदर इंडिया बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म नॉमिनेटेड
1961 इस्माइल मर्चेंट दी क्रिएशन ऑफ़ वीमेन बेस्ट शोर्ट सब्जेक्ट नॉमिनेटेड
1979 विधु विनोद चोपड़ा अन एनकाउंटर विथ फेसेस बेस्ट डॉक्यूमेंटरी (शोर्ट सब्जेक्ट) नॉमिनेटेड
1983 रवि शंकर गाँधी बेस्ट ओरिजिनल स्कोर नॉमिनेटेड
1983 भानु अथैया गाँधी बेस्ट कोस्चुम डिजाईन जीता
1987 इस्माइल मर्चेंट ए रूम विथ अ व्यू बेस्ट पिक्चर नॉमिनेटेड
1989 मीरा नायर सलाम बॉम्बे बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म नॉमिनेटेड
1992 सत्यजित रे हॉनरी अवार्ड सम्मानित
1993 इस्माइल मर्चेंट होवार्ड्स एंड बेस्ट पिक्चर नॉमिनेटेड
1994 इस्माइल मर्चेंट दी रिमेंस ऑफ़ दी डे बेस्ट पिक्चर नॉमिनेटेड
2002 आशुतोष गोवारिकर लगान बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म नॉमिनेटेड
2005 अश्विन कुमार लिटिल टेरेरिस्ट बेस्ट शोर्ट सब्जेक्ट (लाइव एक्शन) नॉमिनेटेड
2007 दीपा मेहता वाटर बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म नॉमिनेटेड
2009 रसूल पूकुटी स्लमडॉग मिलेनियर बेस्ट साउंड मिक्सिंग जीता
2009 ए आर रहमान एवं गुलज़ार स्लमडॉग मिलेनियर बेस्ट ओरिजिनल सोंग जीता
2009 ए आर रहमान स्लमडॉग मिलेनियर बेस्ट ओरिजिनल स्कोर जीता
2011 ए आर रहमान 127 ऑवर बेस्ट ओरिजिनल स्कोर नॉमिनेटेड
2011 ए आर रहमान 127 ऑवर बेस्ट ओरिजिनल सोंग नॉमिनेटेड
2013 बॉम्बे जयश्री लाइफ ऑफ़ पाई बेस्ट ओरिजिनल सोंग नॉमिनेटेड

1958 में महबूब खान की फिल्म ‘मदर इंडिया’ बेस्ट फोरेन लैंग्वेज फिल्म कैटेगरी के लिए गई थी, जो इटालियन-फ्रेंच ड्रम फिल्म ‘नाइट्स ऑफ़ कैबिरिया’ से सिर्फ एक वोट से पीछे रह गई थी.

अन्य पढ़े:

Leave a Comment