आत्मविश्वास कैसे बढाएं – How To Toughen Self Self belief In Hindi

[ad_1]

How To Toughen Self Self belief In Hindi

आत्मविश्वास कैसे बढाएं

 

आत्मविश्वास (Self Self belief) :-

आत्मविश्वास से आशय “स्वंय पर विश्वास एंव नियंत्रण” (Consider in Your self) से है | हमारे जीवन में आत्मविश्वास (Self Self belief) का होना उतना ही आवश्यक है जितना किसी फूल (Flower) में खुशबू (सुगंध) का होना| आत्मविश्वास (Self Self belief) के बगैर हमारी जिंदगी (Lifestyles) एक जिन्दा लाश के समान हो जाती है| कोई भी व्यक्ति कितना भी प्रतिभाशाली (Clever) क्यों न हो वह आत्मविश्वास के बिना कुछ नहीं कर सकता| आत्मविश्वास ही सफलता (Luck) की नींव है, आत्मविश्वास की कमी के कारण व्यक्ति अपने द्वारा किये गए कार्य पर संदेह करता है और नकारात्मक विचारों (Detrimental Ideas) के जाल में फंस जाता है| आत्मविश्वास (Self Self belief) उसी व्यक्ति के पास होता है जो स्वंय से संतुष्ट होता है एंव जिसके पास दृड़ निश्चय, मेहनत (Onerous paintings), लगन (Targeted), साहस (Fearless ) , वचनबद्धता (Dedication) आदि संस्कारों (Sanskar) की सम्पति होती है|

आत्मविश्वास कैसे बढाएं:-  21 Tricks to Toughen Self Self belief – In Hindi

1. स्वंय पर विश्वास रखें (Consider in Your self), लक्ष्य बनायें (Make SMART objectives) एंव उन्हें पूरा करने के लिए वचनबद्ध रहें| जब आप अपने द्वारा बनाये गए लक्ष्य (Objectives) को पूरा करते है तो यह आपके आत्मविश्वास (Self Self belief) को कई गुना बढ़ा देता है|

Learn: टालना बंद कीजिए, अभी शुरुआत किजिए – Forestall Procrastinating, Do It Now

2. ऐसे लक्ष्य (S.M.A.R.T. Objective) बनाएँ जिसे आप प्राप्त कर सकें (Achievable and Real looking Objectives)| क्योंकि जब आप ऐसे लक्ष्य (TARGET) बनाते है जिसे आप पूरा नहीं कर सकते तो यह आपके self esteem (Aatmvishwash) को गिरा देते है और आपका स्वंय पर विश्वास कम हो जाता है | लक्ष्य S.M.A.R.T. होना चाहिए- Particular (स्पष्ट)

– Measurable (मापां जा सकने योग्य)
– Achievable (प्राप्त किया जा सके),
– Real looking (वास्तविक)
-Time-Certain (निर्धारित समय सीमा में पूरा होने लायक)

3. खुश रहें (Be Glad), खुद को प्रेरित करें (Encourage Your self), असफलता (Failure) से दुखी न होकर उससे सीख लें क्योंकि “enjoy हमेशा unhealthy enjoy से ही आता है”

4. हमेशा आसान काम पहले करें और मुश्किल काम बाद में| क्योंकि जब आप पहले आसान कार्य अच्छे से कर लेते है तो दबाव कम हो जाता है और self assurance बढ़ता है जिससे मुश्किल कार्य भी आसान बन जाता है|

5. सकारात्मक सोचें (Suppose Sure) , विनम्र रहें एंव दिन की शुरुआत किसी अच्छे कार्य से करें (beginning the day with a favorable perspective)|

6. इस दुनिया में नामुनकिन कुछ भी नहीं है – Not anything is Unattainable on this international| आत्मविश्वास का सबसे बड़ा दुशमन किसी भी कार्य को करने में असफलता होने का “डर” (Worry of Failure) है एंव डर को हटाना है तो वह कार्य अवश्य करें जिसमें आपको डर लगता है| – Darr ke aage jeet hai

7. आप यह मत सोचिये कि लोग आपके बारे में क्या सोचेंगे :- “सबसे बड़ा यही रोग क्या कहेंगे लोग (Sabse bada rog kya kahenge log)| ज्यादातर लोग कोई भी कार्य करने से पहले कई बार यह सोचते है की वह कार्य करने से लोग उनके बारे में क्या सोचेंगे या क्या कहेंगे और इसलिए वे कोई निर्णय ले ही नहीं पाते एंव सोचते ही रह जाते है एंव समय उनके हाथ से पानी की तरह निकल जाता है| ऐसे लोग हमेशा डर-डर के जीते है और बाद में पछताते हैं| इसलिए दोस्तों ज्यादा मत सोचिये जो आपको सही लगे वह कीजिये क्योंकि शायद ही कोई ऐसा कार्य होगा जो सभी लोगों को एक साथ पसंद आये|

8. सच बोलें, ईमानदार रहें, धूम्रपान न करें, प्रकृति से जुड़े, अच्छे (Excellent) कार्य करें , जरुरतमंद की मदद करें (Be Useful)| क्योंकि ऐसे कार्य आपको सकारात्मक शक्ति (sure energy) देते हैं वही दूसरी ओर गलत कार्य एंव बुरी आदतें (Dangerous Conduct) हमारे आत्मविश्वास को गिरा देते हैं|

9. वह कार्य करें जिसमें आपकी रुचि हो एंव कोशिश करें कि अपने करियर (Occupation) को उसी दिशा में आगे ले जिसमें आपकी रुचि हो|

10.  अच्छे दिखिए और अपना Dressing Sense Toughen कीजिये| दूसरों की देखा-देखी मत कीजिए, वह पहनिए जो आपको comfy लगे| कपड़े कम खरीदिये लेकिन अच्छे खरीदिये|

11.  व्यवहारकुशल बनें और हमेशा नम्रता व मुस्कराहट (Smile) के साथ व्यवहार करें| इससे न केवल आपका आत्मविश्वास (Self Self belief) बढेगा बल्कि इससे आपके अच्छे मित्रों की संख्या भी बढ़ेगी| अच्छे मित्र हमेशा मदद करने के लिए तैयार रहते है और आपके सुख दुःख में हमेशा आपके साथ होते है|

12. Motivational Seminars में हिस्सा लें, ऐसे Tv Program या movies देखें जो आपको encourage or encourage करे, Self Growth and Private Construction की किताबे एंव प्रेरणादायक लेख (Motivational Articles) पढ़े| ऐसे प्रेरणादायक लेख (Motivational Articles) एंव किताबें हमारे thoughts को recharge कर देती है|

13. वर्तमान में जियें (Reside in Provide) क्योंकि न तो भूतकाल एंव न ही भविष्यकाल पर हमारा नियंत्रण है|

14. सकारात्मक सोचें (Suppose Sure), अच्छे मित्र बनायें (Make Excellent Buddies), बच्चों से दोस्तीं करें और आत्मचिंतन करें|

15. Meditation (ध्यान), योग (Yoga) एंव प्राणायाम (pranayam) करें| अपने लिए समय निकालें और कुछ समय एकांत में बिताएं| स्वंय से बात करें (Communicate to Your self) और यह Really feel (महसूस) करें कि आप एक बेहतर इन्सान है|

16. अपनी सफलताओं को याद करें और visualize (कल्पना) करें कि आप कुछ भी कर सकते है (You’ll be able to do anything else) और आपके लिए नामुकिन कुछ भी नहीं (Not anything is Unattainable for You)|

17. हमेशा चिंतामुक्त (Stress Unfastened) रहने की आदत बनायें, रचनात्मक तरीके से सोचें (Inventive Pondering)  और कुछ न कुछ नया करते रहें (Do One thing New and Inventive)| दिन में कुछ समय संगीत सुनने, खेलने अथवा रचनात्मक कार्यों के लिए जरूर निकालें (Do one thing other)|

18. आत्मनिर्भर बनें एंव जितना हो सके अपने कार्य स्वंय करने की कोशिश करें| आत्मनिर्भरता से आपका self assurance लेवल बढ़ता है|

19. या तो ऐसे कार्य न करें जिसमे आपका passion नहीं और और आप अपना 100% नहीं दे सकते या फिर इन कार्यों में अपना passion बनाएं और Easiest करें| क्योंकि जब आप बिना passion के कोई काम करते है तो आप का self assurance degree गिरता है|

20. उस बारे में सोचना बंद कर दें जिस पर हमारा नियंत्रण न हो| “अगर आप उस बातों या परिस्थियों की वजह से दुखी हो जाते है जो आपके नियंत्रण में नहीं है तो इसका परिणाम समय की बर्बादी व भविष्य पछतावा है जिससे आपका  self esteem गिरता है|

21. दृढ निश्चय (Dedication) :- आप अपने लक्ष्य के प्रति अडिग रहें और अपना 100% दें | मेहनत व लगन से बड़े से बड़ा मुश्किल कार्य आसान हो जाता है| अगर लक्ष्य को प्राप्त करना है तो बीच में आने वाली बाधाओं को पार करना होगा, मेहनत करनी होगी, बार बार दृढ़ निश्चय से कोशिश करनी होगी|

“असफल लोगों के पास बचने का एकमात्र साधन यह होता है कि वे मुसीबत आने पर अपने लक्ष्य को बदल देते है|”

अगर आपको सफल होना है तो अपने लक्ष्य पूरे करने की आदत बनाईये न कि उन्हें बार बार बदलने की| अगर आपका अपने लक्ष्य के प्रति दृढ़ निश्चय नहीं है तो आपके self assurance का गिरना तय है|

Learn Different Common Motivational Articles in Hindi

संघर्ष – By no means Give Up Hindi Tales

New Starting:- एक नयी शुरुआत – Laws of Luck

Construct Successful Perspective for Luck 

आकर्षण का नियम 

The Cockroach Tale : Motivational Speech By way of Sundar Pichai

Boiling Frog Motivational Tale in Hindi

Leave a Comment